एजुकेशन/हेल्थ/रोमांसकोमाखान

11वीं में कॉमर्स लेना चाहते है तो जवाहर विद्यालय में करें ऑन लाइन आवेदन, अंतिम तिथि 5 जुलाई तक

छत्तीसगढ़। प्रदेश के विभिन्न जिले में संचालित जवाहर नवोदय विद्यालय में पढ़ना चाहते हैं तो अभी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। महासमुंद सहित पूरे प्रदेश के स्कूलों में ऑनलाइन आवेदन भरे जा रहे हैं। अंतिम तिथि 5 जुलाई है। महासमुंद जिले में संचालित सराईपाली में वाणिज्य संकाय के लिए प्रवेश चालू है।

एडमिशन पात्रता के 50 प्रतिशत अंक जरूरी

  • कक्षा 11वी वाणिज्य संकाय के लिए में रिक्त पदों की भर्ती के लिए लेट्रल एंट्री ऑनलाइन
  • आवेदन 15 जून से 5 जुलाई तक आमंत्रित है।
  • आवेदन के लिए विद्यार्थियों को कक्षा 10 वीं में
  • न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक एवं गणित में 50 प्रतिशत अंक अअनिवार्य है।
  • जवाहर नवोदय विद्यालय में कक्षा 11वीं के अध्ययन का माध्यम अंग्रेजी है।
  • अंग्रेजी माध्यम में क्षमता रखने वाले इच्छुक विद्यार्थी इस वेबसाइट www.nvshq.org के माध्यम से भर सकते हैं।
  • इसके अलावा अपने नजदीक के च्वाइश सेंटरों से आवेदन कर सकते हैं।

जानिए क्या है जवाहर विद्यालय

  • जवाहर नवोदय विद्यालय अथवा नवोदय विद्यालय भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा चलाई जाने वाली पूरी तरह से आवासीय,
  • सह शिक्षा, केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली से संबद्ध शिक्षण परियोजना है।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति – 1986 के अन्तर्गत ऐसे आवासीय विद्यालयों की कल्पना की गई जिन्हें जवाहर नवोदय विद्यालय का नाम दिया गया
जो सर्वश्रेष्ठ ग्रामीण प्रतिभाओं को आगे लाने का उत्तम प्रयास है। इस परीयोजना का प्रमुख लक्ष्य गांव-गांव तक उत्तम शिक्षा पहुचाना है।

ये विद्यालय पूर्णतः आवासीय एवं निःशुल्क विद्यालय होते हैं जहाँ विद्यार्थियों को नि:शुल्क आवास, भोजन, शिक्षा एवं खेलकूद सामग्री उपलब्ध कराई जाती है। हर जिले में एक नवोदय विद्यालय होता है।

देश के सभी राज्यों में संचालित

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 के अनुसार भारत सरकार ने जवाहर नवोदय विद्यालय प्रारंभ किए थे। प्रत्येक जिलों में आवासीय विद्यालयों की अवधारणा “नई शिक्षा नीति” 1986 के अंतर्गत प्रगट हुई।
वर्तमान में जवाहर नवोदय विद्यालय 27 राज्यों और 7 संघ शासित राज्यो मैं संचालित हैं। यह सह शिक्षा आवासीय विद्यालय है, जिन्हे एक स्वयत्त संगठन, नवोदय विद्यालय समिति के ज़रिए भारत सरकार द्वारा संचालित संपूर्ण वित्तीय सहायता प्राप्त हैं।

नवोदय विद्यालयैं में प्रबेश, जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा के मध्यम से कक्षा 6 वीं में किए जाते हैं। इन विद्यालयों में कक्षा 8 तक शिक्षा का माध्यम मातृभाषा अथवा क्षेत्रीय भाषा हैं और इसके बाद से गणित और विज्ञान के लिए अंग्रेज़ी मध्यम और सामाजिक विज्ञान के लिए हिन्दी मध्यम हैं। जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्र केंद्रीय माधामिक शिक्षा बोर्ड की कक्षा 10 और 12 वीं की परीक्षा में सम्मिलित होते हैं।

याद्दपि इन विद्यालयों के छात्रों को नि:शुल्क आवास, भोजन, गणवेश, एवं पाठ्यपुस्तक प्रदान की जाती हैं, लेकिन कक्षा 9 से 12 तक के छात्रों से शुल्क के रूप में प्रति माह रु २०० रुपए लिए जाएंगे लेकिन अनुचुचित जाति, जनजाति, बालिकाओं शारीरिक बिकलांग, एवं उन छात्रों से जिनके अभिभावक ग़रीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करते हैं, को इस शुल्क से छूट प्रदान की गयी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button