फर्जी ऋण पुस्तिका: देखिए पुलिस और आरोपियों की दोस्ताना, बताने के बाद हो गया फरार

4
logo

 

 

 

महासमुंद। फर्जी ऋण पुस्तिका बनाने वाले गिरोह पर पुलिस मेहरबान है। यही वजह है कि 8 माह पूर्व 420 का मामला दर्ज करने के बाद पुलिस विवेचना बता कर आरोपियों को खुलेआम छोड़ दिया है। दरअसल कई किसानों के

फोटो बदलकर फर्जी ऋणपुस्तिका तैयार कर जमीन की खरीदी बिक्री को अंजाम दिया गया। प्रार्थी के शिकायत और दस्तावेज के आधार पर 8 माह पूर्व सिटी कोतवाली में मामला दर्ज हुआ। लेकिन कार्रवाई के नाम पुलिस भागती नजर आई। इसी को लेकर रविवार को जनता कांग्रेस के युवा कार्यकर्ताओं ने सिटी कोतवाली का घंटों तक घेराव करते हुए पुलिस के खिलाफ नारे-बाजी की। हालांकि पुलिस अफसरों के दोषी अधिकारी कर्मचारी द्वारा लापरवाही की है तो उसकी जांच और कार्रवाई करने के भरोसा दिए जाने के बाद कार्यकर्ता शांत हुए।

 

0 इनके खिलाफ है मामला दर्ज:

– कप्तान सिंह महासमुंद, सनत कुमार छातामौहा सांकरा, अरविंद प्रधान पतेरापाली, नारायणदीप शगुनडीपा, सुफल छातामौहा के खिलाफ 420 का मामला दर्ज है।
0 प्रार्थी को पुलिस ने कार्रवाई के लिए ऐसे दिया था जवाब:

– प्रार्थी अशोक सोनवानी पिता अर्जुनलाल सोनवानी कटोरा तालाब रायपुर ने लिखित शिकायत में बताया कि थाना प्रभारी एसएस ठाकुर एवं विवेचना अघिकारी एलबी सिंह को आरोपियों के खुलेआम घुमने की सूचना दी गई, लेकिन हर बार टाल दिया गया।

– प्रार्थी द्वारा 10 मार्च को प्रभारी एसएस ठाकुर को आदित्य हॉस्पीटल में मुख्य आरोपी कप्तान सिंह की होने की जानकारी दी। हालांकि सूचना पर पुलिस की पीसीआर जीप पहुंची, और आरोपी को पकड़ भी लिया, लेकिन कुछ ही देर में पुलिस सांठगांठ का नतीजा रहा कि पुलिस के सामने से वह फरार हो गया।
जनता कांग्रेस ने कहा पुलिस

loading...

युवा कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष विनोद तिवारी ने कहा महासमुंद जिले में फर्जी जमीन-खरीदी बिक्री और ऋण पुस्तिका बनाने का एक बड़ा गिरोह संचालित है। लेकिन पुलिस की मिलीभगत से कार्रवाई नहीं हो रही है। 8 माह पहले फर्जीवाड़ा और 420 मामला दर्ज करने के बाद पुलिस द्वारा अपराधियों को खुले आम घुमने की छूट दी गई है, यहां तक आरोपी कहां पर है इसकी जानकारी देने के बाद पुलिस नहीं पकड़ पा रही है। अगर पुलिस द्वारा जल्द कार्रवाई नहीं की गई तो आगामी दिनों में उग्र पदर्शन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here