महासमुंद: सूदखोर से परेशान किसान ने पुलिस से लगाई गुहार, पुलिस ने दर्ज की FIR

0

महासमुंद। स्टेशन रोड महासमुंद का निवासी एक किसान ने ब्याजखोरों से परेशान होकर सिटी कोतवाली में गुहार लगाई है। किसान के शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है। बतादें किसान अनिल कश्यप पिता भानु कश्यप ने पुलिस एफआईआर में बताया है कि करीब 8 साल पहले महासमुंद निवासी मंगत सिंग चावला एवं गुरिंदर सिंग उर्फ दीपक चावला से व्यवसायिक काम के लिए 07 लाख 50 हजार रुपए नगद, 5 प्रतिशत मासिक व्याज की दर से ऋण लिया था। जिसके एवज में बिना नाम, तिथि लिखे अपना हस्ताक्षर कर बैंक का चेक दिया था। उक्त ऋण राशि का 5 प्रतिशत मासिक ब्याज की दर से 37500 रुपए हर माह नियमित रूप से दिसम्बर 2019 तक देते आया हूं।

यहां पढ़ें : चाणक्य नीति: किसी से भूलकर भी न करें शेयर अपने ये राज, नहीं तो होगा नुकसान

किसान ने पुलिस को बताया दिसम्बर 2019 में ही उक्त मूल राशि 05 लाख रुपए दो बार अलग-अलग चेक के माध्यम से मंगत सिंग चांवला एवं गुरिंदर सिंह उर्फ दीपक चावला को दिया। 12. अप्रैल 2020 को शेष मूल राशि 02 लाख 50 हजार रुपए को मंगत सिंग चावला एवं गुरूरिंदर सिंग चावला को उसके घर में जाकर नगद दिया। इस प्रकार मेरे द्वारा लिया गया ऋण ब्याज सहित मूल रकम वापस कर दिया गया। तथा अपने गारंटी के रूप में जमा किये चेक को वापस मांगने पर नही दिया और ब्याज का पैसा बांकी है कहकर डराने धमकाने और चेक बाउंस के झूठे मामले में फसा देने एवं पुराने अपराधिक मामले में फसाने  बदनाम किये जाने की धमकी देकर 10000 रुपए जबरन वसूल लिया गया।

यहां पढ़ें : छत्तीसगढ़ में आज कोरोना: रिकार्ड 1916, महासमुंद में 80 संक्रमित, रायपुर 674, 12 मौतें

वर्तमान में मुझे मंगत सिंग चांवला एवं गुरिंदर सिंह उर्फ दीपक चावला ब्याज का पैसा वापस करो नही तो चेक बाउंस का झूठे मामले में फंसाकर पैसा वसूल लेंगे कहकर धमकी देता है। किसान ने पुलिस को बताया कि मैं इस घटना से भयभीत हूं। महासमुंद सिटी कोतवाली किसान के शिकायत और उनके द्वारा दिए गए साक्ष्य के आधार पर मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।


loading…


loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here