महासमुंद जिले में छह साल बाद हुई रिकार्ड तोड़ बारिश, सराईपाली और बसना ब्लॉक में बारिश ने दिखाई जमकर मेहरबानी

0

जिले में बसना और सराईपाली में रिकार्ड हुई बारिश, सालों का रिकार्ड टूटा
महासमुंद। वेबमोर्चा.  पूरे देश से मानसून की विदाई का दौर शुरू हो गया है। जिले में छह साल बाद औसत से से ज्यादा बारिश हुई है। साल 2014 के बाद इस सीजन में सर्वाधिक बारिश रिकॉर्ड की गई।
जिलेभर में अच्छी बारिश से 90 फीसदी क्षेत्रों में 100 प्रतिशत पैदावरी अभी तक की स्थिति में है। फसलें कुछ बाकी है कुछ पककर तैयार हो चुकी है। कटाई का दौर जारी है। दीपावली से पहले पैदावार बाजार में आएगी।

ये रहा छह साल से बारिश का आंकड़ा

2014 में 1399.8 MM
2015 में 887.2 MM
2016 में 964.4 MM
2017 में 962.2 MM
2018 में 1069.0 MM
2019 में 1165.3 MM
2020 में 1260.4 MM

सबसे अधिक बारिश बसना और सराईपाली में दर्ज

इस मानसून में जिले की स्थिति

बसना 1446.
सराईपाली 1508.5
बागबाहरा 1396.6
पिथौरा 803.5
महासमुंद 1147.4
मौसम विभाग के अनुसार देश में 1 जून से 30 सितंबर तक मानसून काल माना जाता है।
जिले से मानसून विदा होने के ऐसे बदलेगा मौसम
बुधवार को बादल छाए रहेंगे। हवाओं का दबाव क्षेत्र बनने से बारिश हो सकती है।
हवा का रुख दक्षिणी से पहले पश्चिमी होगा, तापमान बढ़ेगा।
1 माह में उत्तरी व पूर्वी हवाएं चलेंगे, सर्दी आएगी।
टर्फ लाइन समाप्त। अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से नमी व बादल नहीं आएंगे।
बंगाल खाड़ी व अरब सागर में कम दबाव के क्षेत्र बनना बंद होगा, जिससे बारिश नहीं होगी।

वृषभ Rashi – भाग्यशाली रत्न

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here