यूपी: मित्र की हत्या कर घर में दफना दिया, फिर मांगी 20 लाख की फिरौती

0

पूर्वी यूपी के चंदौली में पुलिस ने एक दिल दहलाने वाली हत्याकांड का खुलासा किया है। इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले दो युवकों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इसके साथ ही आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने युवक की डेड बॉडी भी बरामद की है. पुलिस के अनुसार चंदौली के एक व्यापारी के 20 साल के बेटे की हत्या शराब के नशे में उसके ही दोस्तों ने की थी. डेड बॉडी को अपने घर के पीछे दफना दिया था. इतना ही नहीं, हत्यारों ने अपने आप को बचाने के लिए युवक के अपहरण का झूठा नाटक भी रच डाला.
webmorcha.com
जानकारी के अनुसार मामला चंदौली सदर कोतवाली के बिछिया कला गांव का है. गांव का रहने वाला सिद्धार्थ जायसवाल (20) 15 सितंबर को अपने घर से लापता हो गया था. घर वालों ने पहले खुद सिद्धार्थ को ढूढने का प्रयास किया. पर जब कोई अता-पता नहीं चला. तो परिजनों ने पुलिस में इसकी शिकायत कर दी. इसी दौरान 17 तारीख को सिद्धार्थ के मोबाइल से उसके छोटे भाई के पास एक मैसेज आया. जिसमें लिखा था कि सिद्धार्थ का अपहरण कर लिया गया है. साथ ही 20 लाख रुपए की फिरौती की मांग भी की गई थी.

यहां पढ़ें: CM योगी ने किया घोषणा- हम बनाएंगे देश की सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी

फिरौती 20 लाख रुपये मांगी गई थी. सिद्धार्थ के पिता की चंदौली में जनरल स्टोर की दुकान है. एक व्यापारी के बेटे के अपहरण का मामला सामने आने के बाद पुलिस भी तत्काल हरकत में आ गई. पुलिस की कई टीमों ने अपनी जांच पड़ताल शुरू की. पुलिस सर्विलांस की मदद तो ले ही रही थी, साथ ही साथ सिद्धार्थ के दोस्तों और जानने वालों से भी पूछताछ कर रही थी. जांच पड़ताल के दौरान पुलिस जब सिद्धार्थ के दोस्त अमित से पूछताछ कर रही थी तो उसी दौरान पुलिस को अमित पर कुछ शक हुआ. पुलिस ने जब अमित से कड़ाई से पूछताछ की तो जो कहानी सामने आई वह काफी हैरान कर देने वाली थी.
webmorcha.com
जिस दिन सिद्धार्थ घर से गायब हुआ था, उस दिन सिद्धार्थ और उसका दोस्त अमित साथ में बैठकर शराब पी रहे थे. वहां पर अमित का छोटा भाई भी मौजूद था. शराब पीने के दौरान अमित ने सिद्धार्थ को सिगरेट लाने के लिए कहा. लेकिन सिद्धार्थ ने सिगरेट लाने से मना कर दिया. इसी बात को लेकर अमित और सिद्धार्थ में बहस होने लगी और दोनों झगड़ा करने लगे. इसी दौरान अमित और उसके भाई ने मिलकर चाकू से हमला कर सिद्धार्थ की हत्या कर दी और सिद्धार्थ की डेड बॉडी को प्लास्टिक की पन्नी में लपेट कर अपने घर के पीछे अहाते में दफना दिया. यही नहीं इस पूरे मामले को डायवर्ट करने के लिए 2 दिन बाद अमित यूपी- बिहार के बॉर्डर पर गया और सिद्धार्थ के मोबाइल से आवाज बदल कर सिद्धार्थ के छोटे भाई से बात की और फिरौती की मांग की.

यहां पढ़ें: राजस्थान: अलवर ज़िले में एक महिला से 6 लोगों ने किया गैंगरेप, दो गिरफ्तार

पूछताछ के बाद पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल दोनों आरोपियों की निशानदेही पर सिद्धार्थ जायसवाल की डेड बॉडी को बरामद कर लिया. जहां पर इन लोगों ने सिद्धार्थ की हत्या कर उसकी बॉडी को जमीन में दफना दिया था. चंदौली के SP हेमंत कुटियाल का कहना है कि 17 तारीख को हमारे पास एक सूचना आई थी कि सिद्धार्थ जायसवाल नाम का लड़का है जो बिछिया कला का रहने वाला है. वह 15 तारीख को अपने घर से गया था और 17 तारीख में उसके फोन से एक मैसेज आया है जिसमें कुछ फिरौती की मांग की गई है. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.


loading…


loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here