रायगढ़: पंडित रविशंकर, यतियतन, महाराजा अग्रसेन सम्मान के लिये 15 अक्टूबर तक आवेदन आमंत्रित 

0
webmorcha.com
सम्मान

रायगढ़, 13 अक्टूबर 2020/ सामान्य प्रशासन विभाग अंतर्गत राज्य स्तरीय पुरस्कार पंडित रविशंकर शुक्ल सम्मान एवं यतियतन लाल सम्मान तथा अखिल भारतीय पुरस्कार महाराजा अग्रसेन सम्मान के लिये 15 अक्टूबर 2020 सायं 5 बजे तक प्रविष्टियां आमंत्रित किये गये है। इच्छुक आवेदक नियत तिथि तक जिला कलेक्टर कार्यालय में अपनी प्रविष्टि जमा कर सकते है। सीधे विभाग को प्राप्त प्रविष्टि पर कोई विचार नहीं किया जायेगा।

वर्ष 2020 के लिये उक्त पुरस्कार प्राप्त करने के लिये राज्य के एक व्यक्ति / एक संस्था के चयन हेतु प्रविष्टियां आमंत्रित की जाती है। उक्त पुरस्कार राज्य  शासन द्वारा नियुक्त निर्णायक मंडल (जूरी)द्वारा चयन होने पर ही दिया जायेगा। चयनित व्यक्ति एवं संस्था को 2 लाख रुपये नगद, सम्मान प्रतीक चिन्ह से युक्त पट्टिका एवं प्रमाण-पत्र भी प्रशस्ति के रूप में दी जायेगी। चयन होने की दशा में सम्मान ग्रहण करने के बारे में व्यक्ति की लिखित सहमति एवं आवेदक राज्य अथवा केन्द्र शासन के किसी विभाग, निगम/मंडल में सेवारत हो तो उसका स्पष्ट उल्लेख प्रविष्टि में करना होगा।

पंडित रविशंकर शुक्ल सम्मान

राज्य शासन ने सामाजिक, आर्थिक एवं शैक्षणिक क्षेत्रों में किये गये अभिनव प्रयास के लिये सम्मानित करने और उनमें एक राष्ट्रीय कीर्तिमान विकसित करने की दृष्टि से राज्य स्तरीय पंडित रविशंकर शुक्ल सम्मान की स्थापना की है। उक्त सम्मान के लिये व्यक्ति/संस्था का पूर्ण परिचय, सामाजिक, आर्थिक व शैक्षणिक क्षेत्र में अभिनव प्रयत्नों के लिये किए गए कार्यों की सप्रमाण विस्तृत जानकारी, यदि कोई अन्य पुरस्कार प्राप्त किया जो उसका विवरण,

सामाजिक, आर्थिक व शैक्षणिक क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य तथा इसके सैद्धांतिक पक्ष के विषय में प्रकाशित साहित्य की सत्यापित फोटो प्रति, सामाजिक, आर्थिक व शैक्षणिक क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य के संबंध में प्रख्यात पत्र/पत्रिकाओं/ग्रंथ के माध्यम से उपलब्ध साहित्य, चयन होने की दशा में सम्मान ग्रहण करने के बारे में व्यक्ति की लिखित सहमति एवं आवेदक राज्य अथवा केन्द्र शासन के किसी विभाग, निगम/मंडल में सेवारत हो तो उसका स्पष्ट उल्लेख प्रविष्टि में करना होगा।

यतियतन लाल सम्मान

राज्य शासन ने अहिंसा एवं गौ रक्षा के क्षेत्र में किये गये अविस्मरणीय कार्य, सेवाओं तथा अभिनव प्रयास के लिये सम्मानित करने और उनमें एक राष्ट्रीय कीर्तिमान विकसित करने की दृष्टि से राज्य स्तरीय यतियतन लाल सम्मान की स्थापना की है। उक्त सम्मान के लिये व्यक्ति/संस्था का पूर्ण परिचय, अहिंसा एवं गौरक्षा के क्षेत्र में किए गए अविस्मरणीय कार्य, सेवाओं तथा अभिनव प्रयास के लिये किए गए कार्यो की सप्रमाण विस्तृत जानकारी,

यदि कोई अन्य पुरस्कार प्राप्त किया हो तो उसका विवरण, अहिंसा एवं गौरक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य तथा इसके सैद्धांतिक पक्ष के विषय में प्रकाशित साहित्य की सत्यापित छायाप्रति, अहिंसा एवं गौरक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के संबंध में प्रख्यात पत्र/पत्रिकाओं/ग्रंथ के माध्यम से उपलब्ध साहित्य, चयन होने की दशा में सम्मान ग्रहण करने के बारे में व्यक्ति की लिखित सहमति एवं आवेदक राज्य अथवा केन्द्र शासन के किसी विभाग, निगम/मंडल में सेवारत हो तो उसका स्पष्ट उल्लेख प्रविष्टि में करना होगा।

महाराजा अग्रसेन सम्मान

राज्य शासन ने सामाजिक, समरसता यथा सभी वर्गो में समभाव, सौहाद्र्र, समाज सेवा के स्थाई कार्य जैसे अस्पताल, धर्मशाला, पेयजल, स्वच्छता एवं सामाजिक विकास के अन्य स्थायी स्वरूप के कार्यों में जनभागीदारी को बढ़ावा देने, सामाजिक चेतना का अच्छा वातावरण विकसित करने के योगदान को प्रोत्साहित करने की दृष्टि से अखिल भारतीय महाराजा अग्रसेन सम्मान की स्थापना की है। उक्त सम्मान के लिये व्यक्ति/संस्था का पूर्ण परिचय, सामाजिक, समरसता यथा सभी वर्गो में समभाव, सौहाद्र्र,

समाज सेवा के स्थाई कार्य जैसे अस्पताल, धर्मशाला, पेयजल, स्वच्छता एवं सामाजिक विकास के अन्य स्थाई स्वरूप के कार्यों में जनभागीदारी को बढ़ावा देने, सामाजिक चेतना का अच्छा वातावरण विकसित करने के क्षेत्र में किए गए अविस्मरणीय कार्य, सेवाओं तथा अभिनव प्रयास के लिए किए गए कार्यों की सप्रमाण विस्तृत जानकारी, यदि कोई अन्य पुरस्कार प्राप्त किया हो तो उसका विवरण, सामाजिक,

समरसता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य तथा इसके सैद्धांतिक पक्ष के विषय में प्रकाशित साहित्य की सत्यापित छायाप्रति, सामाजिक समरसता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के संबंध में प्रख्यात पत्र/पत्रिकाओं/ग्रंथ के माध्यम से उपलब्ध साहित्य, चयन होने की दशा में सम्मान ग्रहण करने के बारे में व्यक्ति की लिखित सहमति एवं आवेदक राज्य अथवा केन्द्र शासन के किसी विभाग, निगम/मंडल में सेवारत हो तो उसका स्पष्ट उल्लेख प्रविष्टि में करना होगा।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here