सोते हुए भाई-भाभी और भतीजे पर Petrol डालकर जिंदा जलाया और फिर खुद फांसी लगाकर Suicide कर ली

भोपाल | मध्य प्रदेश के अनूपपुर में बड़ी घटना सामने आई है, जहां दीपक नामक युवक ने पारिवारिक विवाद के कारण बीती रात करीब 1:30 से 2:00 के बीच अपने ही सगे भाई-भाभी और दो बच्चों को Petrol डालकर जिंदा जला दिया है और उसके बाद वह खुद भी फांसी के फंदे पर झूल कर Suicide कर ली है।
NTPC भर्ती 2020 : डिप्लोमा इंजीनियरों के लिए 70 Vacancy, 12 दिसंबर तक करें आवेदन
बताया जा रहा है कि दीपक का अपने भाई के साथ विवाद था जिसके चलते वो हमेशा परेशान रहता था। मामला अनूपपुर जिले के जैतहरी थानांतर्गत ग्रामपंचायत धनगवां के पिपरहा टोला का है जहां में एक ही परिवार के तीन लोग जल कर खाक हो गए। तो वहीं दूसरे कमरे में मृतक ओमकार के भाई दीपक विश्वकर्मा उम्र लगभग 31 वर्ष ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
एक बालक जिसकी उम्र लगभग 18 वर्ष है जिसे उसके चाचा चेतराम विश्वकर्मा बगल में सो रहे थे शोर शराबा सुन कर दरवाजा तोड़ कर बाहर निकाला जिसको शहडोल के लिए रिफर कर दिया जो बुरी तरह जल चुका है।
जलकर मरने वालों में पिता ओमकार उम्र 46 वर्ष, पत्नी कस्तूरिया बाई 40 वर्ष, बेटी निधी विश्वकर्मा उम्र 16 वर्ष शामिल हैं, जिनको पहचानना बहुत मुश्किल हो रहा है।
सुपारी किलर के साथ मिलकर की थी पत्नी की Murder CCTV फुटेज से हुआ खुलासा
अगर पूरे मामले को समझे तो गांव वालों का कहना है कि दीपक विश्वकर्मा ने ही बाहर से दरवाजा बंद करके अपने सो रहे भाई के परिवार के दरवाजे में केरोसिन डाल कर आग लगा दिया और खुद दूसरे कमरे में फांसी लगा आत्महत्या कर ली है। वहीं अब Police  पूरे मामले की जांच कर रही है।

Leave a Comment