एक ही परिवार के सभी 6 लोगों ने खाया जहर, चोरी के झूठे मामले में फसाने के आरोप

धमतरी. धमतरी जिले के जुगड़ेही गांव में एक व्यक्ति ने अपने परिवार सहित जहर पी कर जान देने की कोशिश की. फिलहाल सभी धमतरी जिला Hospital में भर्ती हैं और इलाज जारी है. पीड़ित परिवार की लड़की दामिनी ने बताया कि कुछ दिन पहले गांव में चोरी हुई थी, जिसकी रिपोर्ट भखारा थाने में की गई थी और Police  इस मामले की तफ्तीश कर रही थी. इसी बीच गांव के ही लोगों ने दिलीप यादव पर चोरी का शक जताया था, जिस पर गांव में एक बैठक भी बुलाई गई थी और दिलीप यादव से पूछताछ की गई थी.

इसी सिलसिले में भखारा पुलिस ने दिलीप यादव को उठाया था और थाना ले जाकर पूछताछ की थी, लेकिन बाद में छोड़ भी दिया था. इसीके बाद दिलीप यादव तनाव में आ गया और 19 जुलाई को खुद भी जहर पी लिया और अपनी पत्नी, दो बेटी और दो बेटों को भी जहर पिला दिया. दिलीप यादव की बेटी दामिनी यादव ने बताया कि सभी उसके पिता को चोर समझ रहे थे, जिससे पिता काफी परेशान हो गए और जान देने की कोशिश की.

सिर्फ पूछताछ के लिए बुलाया
इस मामले में धमतरी एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि दिलीप को सिर्फ पूछताछ के लिए बुलाया गया था. किसी तरह का जुर्म उस पर दर्ज नही किया गया है. बहरहाल इस घटना के बाद धमतरी जिले में खलबली मची हुई है. बता दें कि दिलीप यादव गांव में चरवाहे का काम करता है. इसी से वो अपने परिवार को भी पालता है. परिवार के सामूहिक आत्महत्या के प्रयास से इस मामले ने पूरा नया मोड़ ले लिया है.