Monday, January 18, 2021
Home कवर्धा पूर्व सीएम डा. रमन सिंह ने अफसरों को दी चेतावनी: जबरदस्ती इतना स्वामिभक्त मत बनो, समय बदलता है, तीन...

पूर्व सीएम डा. रमन सिंह ने अफसरों को दी चेतावनी: जबरदस्ती इतना स्वामिभक्त मत बनो, समय बदलता है, तीन साल बाद हिसाब-किताब करने हम भी आएंगे!

कवर्धा। प्रदेश के पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश के अधिकारियों को खुली धमकी दे डाली दी है. डॉ. रमन सिंह ने कहा, अफसरों को गिने-चुने दिन ही रहना है. उन्हें इतने तलवे चाटने की जरूरत नहीं है. किसान महापंचायत में उन्होंने कहा, जबरवाली इतना स्वामि-भक्त मत बनो। समय सब बदलता है। सरकार के 2 वर्ष बीत गए हैं। 3 साल बाद हिसाब-किताब करने हम भी आएंगे। इसलिए अधिक गर्मी न दिखाएं। पूर्व सीएम कवर्धा के स्थानीय प्रशासन पर विफरे हुए थे। दरअसल, कृषि संबंधी कानूनों के समर्थन में बीजेपी पूरे छत्तीसगढ़ में किसान महापंचायत कर रही है। शुक्रवार को दुर्ग संभाग स्तरीय महा पंचायत का आयोजन कवर्धा में था।
स्थानीय बीजेपी नेताओं ने कवर्धा के गांधी मैदान में सभा की अनुमति मांगी थी। SDM कवर्धा ने इसकी अनुमति भी दे दी। 17 दिसम्बर की सुबह प्रशासन ने गांधी मैदान की अनुमति रद्द कर BJP को राजीव गांधी पार्क में सभा करने को कहा। प्रशासन द्वारा इस किए जाने को लेकर बीजेपी बौखालाया हुआ था। प्रशासन की अनुमति नहीं मिलने के बाद बीजेपी ने शुक्रवार शाम गांधी मैदान में ही किसान महापंचायत का आयोजन किया।

किसानों को भ्रम में डालकर कुछ लोग आंदोलन चला रहे हैं।

इसमें विधानसभा में पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के साथ नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, सांसद संतोष पांडेय, पूर्व सांसद मधुसूदन यादव, बीजेपी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम विहारी जायसवाल, पूर्व विधायक अशोक साहू, कवर्धा के जिलाध्यक्ष अनिल सिंह ठाकुर मौजूद थे।  इस अवसर पर पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने देश में चल रहे किसान आंदोलन को राजनीतिक साजिश होना बताया। उन्होंने कहा, केंद्र सरकार का कानून किसानों के फायदे के लिए है। किसानों को भ्रम में डालकर कुछ लोग आंदोलन चला रहे हैं। उन्होंने कहा, किसानों को इन कानूनों में जो आपत्तियां दिख रही थीं, बातचीत के बाद केंद्र सरकार ने दूर करने की बात कही है। ऐसे में आंदोलन का कोई औचित्य नहीं रह जाता।

धरमलाल ने कहा, यहां क्यों मर रहे हैं किसान

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष नेता धरमलाल कौशिक ने महापंचायत में कहा, पूरे प्रदेश में किसान आत्महत्या कर रहे हैं। केंद्र के जिस कानून से किसानों को डराया जा रहा है, वह अभी प्रदेश में लागू नहीं है। यहां की कथित किसान हितैषी सरकार अपने किसानों को क्यों नहीं बचा पा रही है। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष ने प्रदेश सरकार पर प्रदेश में उगाही कल्चर शुरू करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि थानों में पोस्टिंग के बोली लग रही है। जो सबसे ज्यादा रकम देता है उसे मनचाही पोस्टिंग मिल रही है। उन्होंने कहा, सरकार ने उगाही को कल्चर बना दिया गया है।
 
2020 विदाई माह के साथ अच्छी खबर: कोरोना की वैक्सीन किसे और कैसे और कब लगेगी? हर प्रश्न का सरकार ने दिया उत्तर

2020 विदाई माह के साथ अच्छी खबर: कोरोना की वैक्सीन किसे और कैसे और कब लगेगी? हर प्रश्न का सरकार ने दिया उत्तर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -webmorcha.com webmorcha.com

Most Popular

Recent Comments