कोमाखानमहासमुन्द

अंकित बागबाहरा ने कहा शिक्षा की नींव ही मजबूत नहीं कर पाई सरकार .कह रहे हमने ये क्या ?

खल्लारी विधानसभा।

बागबाहरा ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अंकित बागबाहरा ने कहा सरकार शिक्षा की नींव को ही मजबूत नहीं कर पाई है। जिसके कारण आज भी ग्रामीण प्रतिभावान छात्रों को तरक्की की राह में कई अड़चनों का सामना करना पड़ रहा है।  जिस विकास की सरकार बात कर रही वह विभाग केवल कागजों में है, धरातल में गौर करें तो सड़क, बिजली स्वास्थ्य जैसी बुनियादी सुविधा लोगों तक ठीक से नहीं पहुंच पाई है। भ्रष्ट्राचार  की नींव से बनी है सरकार की विकास।

http://नेताजी के आने पर सड़क में आई खुशहाली, इधर एक पिता बीमार बच्चे को कंधे में लेकर जर्जर सड़क का लिया सेल्फी

बागबाहरा विकास खंड में कई विद्यालय शिक्षक विहीन,व्यवस्था में चला रहे काम कुल 638 पद रिक्त :: अंकित

अंकित बागबाहरा ने बताया कि विकास की चिड़िया खोजने ग्रामीणों के बुलावे पर बागबाहरा से लगभग 38 किलोमीटर ओडि़शा लगे ग्राम भालुकुना पहुंचे। सबसे पहले वहां पहुंचने का रास्ता पूरा जर्जर हो चुका है, आधे रास्ते मे सड़क नही है वश में स्थापित वहां के शासकीय प्राथमिक शाला पूर्णतः शिक्षक विहीन है वहां के छात्र छात्राओं की कुल संख्या 37 है वहां के बच्चों को एक व्यवस्था में प्राप्त शिक्षक के भरोसे काम चलाना पड़ रहा है,विडंबना यह है कि उसी प्राइमरी स्कूल के बगल में लगे मिडिल स्कूल में जहां बच्चों की दर्ज संख्या 43 है वहां स्वीकृत शिक्षकों की संख्या 4 है और एवज में मात्र एक शिक्षक ही पढ़ा पा रहा है।

http://अंकित ने हाइवे का नाम रखा भ्रष्ट्राचार और सड़क के गड्‌ढों में लगाया कमल फूल

अंकित ने सरकार से मांगा जवाब

अंकित बागबाहरा ने वर्तमान भाजपा सरकार से पूछा कि पूरे प्रदेश में 694 शराब दुकान खोलने, मुख्यमंत्री के काफिले के लिए करोड़ों के गाड़ी खड़ी कर दी जाती है। वोटों के लिए अनावश्यक 1200 करोड़ रुपए के मोबाइल बांटने की योजना सरकार बना लेती है, परंतु आज के वर्तमान और कल के भविष्य बच्चों रूपी विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिड़वाल कर रही है, पूरे प्रदेश में लगभग 20 लाख शिक्षित पंजीकृत बेरोजगार है अकेले महासमुंद जिले में 41000 पंजीकृत शिक्षित बेरोजगार है उसके बाद भी शिक्षकों की कमी बना के रखना भाजपा सरकार की मंशा स्पष्ट करने के लिए काफी है ।

http://पढ़िए: रेलवे का दूसरा नजारा: यहां डा. वाणी ने खोज निकाला.. किसानों की फसल 24 घंटे से पानी में डूबी हुई है

अंकित बागबाहरा ने आंकड़ों की बात करते हुए बताया कि बागबाहरा विकास खंड में कुल स्वीकृत पदों 1272 के विपरीत पूरे 50 प्रतिशत कम मात्र 638 शिक्षक ही कार्यरत है, इसी में सबसे आश्चर्य जनक आंकड़ा प्राथमिक शाला में प्रधान पाठक के स्वीकृत कुल 266 पदों में 241 पद खाली है । ये मात्र बागबाहरा ब्लॉक के आंकड़ें है

अब इसमें अगर जिले से अनुमान लगाएं और प्रदेश में लगाए तो वर्तमान भाजपा सरकार शिक्षा व्यवस्था देने में पूर्णतः फेल है। उन्होंने कहा की भ्रस्टाचार को बढ़ावा देने ख़ैरात बांटना छोड़ भाजपा सरकार को चाहिए कि बच्चों की नींव मजबूत करने की ओर कोई गम्भीरतापूर्ण ध्यान देवे ।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button