कोमाखान

देश के निर्माण में अपनी करूणाई को समर्पित करने वाले व्यक्तियों को मिले उचित पेंशन राशि: चोपड़ा

रायपुर। प्रदेश के निराश्रित पेंशनधारियों को उचित पेंशन राशि देने की मांग को लेकर विधायक डॉ. विमल चोपड़ा के नेतृत्व में राजधानी रायपुर में महासमुंद जिले के पेंशनधारी धरने पर बैठे हैं।

  • धरना-प्रदर्शन को संबोधित करते हुए विधायक डॉ. विमल चोपड़ा ने कहा कि देश के निर्माण में अपने जवानी के समय अपनी पूरी करूणाई को समर्पित किया है, ऐसे व्यक्ति जो आज उम्रदराज हो चुके है, उन्हें सरकार से सहायता मिलनी चाहिए।
  • उन्होंने कहा कि कोई व्यक्ति कुली, मिस्त्री और बढ़ई बनकर काम किया और देश के निर्माण में अपना सहयोग दिया है। लेकिन, आज उनका हाथ-पैर नहीं चल सकते और मेहनत का काम नहीं कर सकते, उन्हें सरकार से उचित पेंशन राशि मिलनी चाहिए। ताकि, वे अपना जीवन यापन निर्वहन कर सकें।

भाजपा सरकार कर रही निराश्रितों की उपेक्षा

  • बता दें कि बुधवार 9 मई को विधायक डॉ. विमल चोपड़ा ने प्रेसवार्ता में पत्रकारों को बताया कि भाजपा सरकार निश्रारित पेंशनधारियों की उपेक्षा कर रही है।
  • उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रदेशभर के करीब 20 लाख निराश्रितों को सरकार द्वारा दी जाने वाली पेंशन राशि बहुत ही कम है।
  • निराश्रितों को न्यूनतम एक हजार रुपए पेंशन दी जानी चाहिए। पेंशन राशि में वृद्घि के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है और इस मुद्दे को विधानसभा में भी उठाया है।
  • बाद सरकार द्वारा पेंशन की राशि में महज 50 रुपए की वृद्घि की गई है।

उचित पेंशन मिलनी चाहिए

  • विधायक चोपड़ा ने बताया कि शासकीय कर्मचारियों को जिस तरह से उचित पेंशन दी जाती है, उसी तरह निराश्रितों को भी उचित पेंशन मिलनी चाहिए।
  • रायपुर में आयोजित धरना-प्रदर्शन में महासमुंद जिले से बड़ी संख्या में पेंशनधारी पहुंचे है। धरना-प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button