गजब छत्तीसगढ़: शराब में ऑनलाइन टैक्स अलग, इधर खुलेआम चाय-पानी की डिमांड, कहने को ऑनलाइन, लेकिन शराब दुकानों में लगी लंबी कतार

रायपुर। गजब छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ में तकरीबन सभी जगहों पर बीते रविवार को वीकेड लॉकडाउन लगी थी। इस दौरान मेडिकल स्टोर (अतिआवश्यक दुकान) के अलावा कोई भी दुकाने नहीं खुली थी, यहां तक दुध दुकान को भी कुछ ही देर खोलने की अनुमति दी गई थी। लेकिन, रविवार को छत्तीसगढ़ राजधानी समेत महासमुंद स्थित बेमचा और एकता चौक शराब दुकान खुली थी जहां पर लोगों की लंबी कतार लगी थी। यहां पर वीकेंड लॉकडाउन पर शासन-प्रशासन का जरा भी नियंत्रण नहीं था। कहने को तो छत्तीसगढ़ सरकार शराब को ऑनलाइन डिलवरी दे रही है, लेकिन यह व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो गई है।

ऑनलाइन टैक्स के साथ चाय-पानी

दिलचस्प तो ये है कि ऑनलाइन शराब मंगाने के लिए प्रति व्यक्ति सरकार 118 रुपए अतिरिक्त चार्ज ले रही है। जबकि ऑनलाइन उपलब्धता नहीं है, लोगों को दुकान पहुंचकर ही लेना पड़ रहा है। इसके अलावा दुकान ऑनलाइन डिलवरी के समय खुलेआम शराब दुकान के कर्मचारी प्रत्येक व्यक्तियों से चाय-पानी के लिए 50 से 100 रुपए जबरदस्ती वसूल रहे हैं, नहीं देने पर एक घंटे बाद आने को कहते हैं या फिर दूसरा कोई बहाना बनाकर ग्राहकों को वापस कर देते हैं।

कहने को ऑनलाइन लेकिन, ग्राहक को शराब दुकान बुलाकर दे रहे शराब, वहीं एडवांस देने के बाद भी लोग दिनभर शराब के लिए तरसे

इससे अच्छा सरकार सभी दुकानों को ओपन कर देती?

महासमुंद बेमचा शराब दुकान पहुंचे ग्राहकों (गोपनीय नाम) का कहना था, कि ऑनलाइन में 118 रुपए अतिरिक्त देने के साथ दुकान तो जाना ही पड़ रहा है साथ कर्मचारी को चाय-पानी के लिए अलग देना पड़ रहा है। इससे अच्छा होता कि पूरी शराब दुकान को सरकार खोल देती तो कम से कम ग्राहकों को लूट का शिकार तो नहीं होना पड़ता।

webmorcha.com