देश/विदेश

महाराष्ट्र में पालीथिन पर आज से बैन, उत्तरप्रदेश ने दफ्तरों में गुटखा खाने पर लगाई पाबंदी

मुबंई।  महाराष्ट्र में कल  से पॉलीथीन के इस्तेमाल पर बैन लग जाएगा। पॉलीथिन का इस्तेमाल करते पाए जाने पर 5 हजार रुपए जुर्माना देना पड़ सकता है। दूसरी बार पकड़े गए तो 10 हजार और तीसरी बार में 25 हजार का जुर्माना देना होगा।  इसके अलावा तीन महीने की जेल भी हो सकती है,  वहीं उत्तर प्रदेश  मेें भी सरकार ने पाॊलीथिन और सरकारी दफ्तरों में गुुटखा, पान के सेवन पर पाबंदी लगा दी है।

पालीथिन का इस्तेमाल करने वालों पर रहेगी नजर

  • बारिश के दिनों में मुंबई में प्लास्टिक की वजह से नाले-सीवर जाम होना आम बात है।
  • जिससे बारिश का पानी निकल नहीं पाता है।
  • मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने मुंबई में प्लास्टिक इस्तेमाल करने वालों को पकड़ने के लिए करीब 250 इंस्पेक्टर भी नियुक्त किए हैं।

व्यापारियों ने किया विरोध, कई ने किया स्वागत

  • प्लास्टिक उत्पादक और व्यापारियों इस बैन का विरोध शुरू कर दिया है।
  • इन लोगों का मानना है कि बैन जल्दबाजी में लागू किया जा रहा। वहीं ज्यादातर लोग इस बैन का समर्थन कर रहे हैं।
  • इस बैन के बाद कागज की फैक्ट्री पर काम का बोझ बढ़ जाएगा।
  • कागज के थैले की मांग में जबरदस्त उछाल आने से डिमांड पूरी नहीं हो पा रही है.

इन पर लगेगा बैन

  • हर तरह की प्लास्टिक थैली, चाय के कप,  थर्माकोल प्लेट और ग्लास, प्लास्टिक डिब्बे, चम्मच, थैलियां।
  • हालांकि कुछ क्षेत्रों में प्लास्टिक के इस्तेमाल की छूट भी दी गई है. जैसे दवाओं की पैकिंग, कचरा इकट्ठा करने वाला बैग और ब्रांडेड सामान।

इधर उत्तरप्रदेश में भी सख्त रवैया

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी कार्यालयों में पॉलीथीन के उपयोग पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने के निर्देश दिए हैं।
  • सभी शासकीय दफ्तरों, अस्पतालों और स्कूल कॉलेजों में पान, गुटखे और तम्बाकू के सेवन पर भी बैन लगा दिया गया है।
  • मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से किए गए एक ‘ट्वीट’ में कहा गया है कि योगी आदित्यनाथ ने सभी शासकीय दफ्तरों, अस्पतालों और स्कूल कालेजों में पान, गुटखे
  • और तम्बाकू के सेवन पर पाबंदी लगाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही सरकारी कार्यालयों में पॉलीथीन का प्रयोग भी पूर्णत: प्रतिबंधित होगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button