मेरा गांव मेरा शहर

गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ बसना का नाम

बसना। नीलांचल सेवा समिति एवं नगर पंचायत बसना के अध्यक्ष संपत अग्रवाल के तत्वावधान में 20 मई को 400 से अधिक मंडलियों 800 से अधिक मृदंग वादकों तथा 25,000 से अधिक अन्य वाद्ययात्रियों द्वारा आस्था और श्रद्धा की ऐतिहासिक पावन प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम बसना के हाईस्कूल मैदान मे सम्पन्न हुआ । जिसका अभिलेख विश्व स्तरीय गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम ने निरीक्षण किया । इण्डिया हेड डॉ.मनीष बिसनोई ने नीलाचंल समिति के अध्यक्ष सम्पत अग्रवाल को दो क्षेत्रों में वर्ल्ड रिकॉर्ड का दो प्रमाण पत्र दिया गया।

शोभायात्रा के साथ नगर का भ्रमण

  • नीलांचल सेवा समिति द्वारा आयोजित कीर्तन मंडलियों द्वारा बसना के प्रमुख मार्गों में वृहद शोभायात्रा व नगर
  • भ्रमण पश्चात हाई स्कूल मैदान बसना में कार्यक्रम का भव्य शुभारंभ हुआ।
  • गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में बसना का नाम पहली बार दर्ज हुआ ।

एक साथ दो रिकार्ड

  • बतादें कि बसना को एक नहीं बल्कि 2 वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम मे दर्ज हुआ।
  • पहला रिकॉर्ड 25 हजार लोगो के एक साथ नृत्य करने पर
  • दूसरा वर्ल्ड रिकॉर्ड 800 लोगों के द्वारा मृदंगों के बजाने हेतु किया गया है ।
  • गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के एशिया हेड  डॉ मनीष वेसनोई ने  प्रमाण पत्र भेट कर  सम्पत अग्रवाल का सम्मान किया ।जो बसना नगर ही नहीं ,बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ के लिए गौरव की बात है।

सामूहिक नाम संकीर्तन महामंत्र उच्चारण

  • श्री हरिनाम संकीर्तन कार्यक्रम में वृहद शोभायात्रा एवं नगर भ्रमण करते हुए हाई स्कूल मैदान पहुंचने के बाद सर्व प्रथम श्री जगन्नाथ महाप्रभु ,चैतन्य महाप्रभु एवं राधा कृष्ण की पूजा अर्चना की गई।
  • तत्पश्चात नीलांचल सेवा समिति के अध्यक्ष सम्पत अग्रवाल द्वारा स्वागत् भाषण दिया गया।उसके बाद सामूहिक नाम संकीर्तन महामंत्र उच्चारण उपस्थित समस्त कीर्तन मंडली द्वारा किया गया।

सामूहिक मृदंग वादन

  • कार्यक्रम मे आए हुए 400 कीर्तन मंडलियों के 800 मृदंग वादकों द्वारा सामूहिक मृदंग वादन का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।
  • आभार प्रदर्शन सल्डीह निवासी मिनकेतन दास द्वारा किया गया। आयोजित कार्यक्रम को संत बालकदास महात्यागी संरक्षक छ.ग.गौ सेवा आयोग एवं परमात्मा नंद महाराज अध्यक्ष संस्कृति विभाग छ.ग.शासन द्वारा संक्षिप्त मे उद्बोधन किया गया।

अतिथियों का शाल एवं स्मृति चिन्ह से सम्मानित

  • नीलांचल सेवा समिति के अध्यक्ष सम्पत अग्रवाल द्वारा उपस्थित समस्त अतिथियों का शाल एवं स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया। ऐतिहासिक इस कार्यक्रम मे मुख्य रूप से बाबा निरंजन दास ,जितेंद्र दास ,त्रिदण्डी महाराज , महिमा संन्यासी गिरजशंकर जी ,उडिसा के प्रसिद्ध भजन गायक चरण महन्ती , छ.ग.वनौषधि बोर्ड के अध्यक्ष रामप्रताप सिंह ,संसदीय सचिव एवं बसना विधायक रुपकुमारी चौधरी ,सरायपाली विधायक रामलाल चौहान ,छ.ग.शासन माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष चन्द्रशेखर पांडे ,डॉ एन के अग्रवाल , गोवर्धन अग्रवाल ,काजल सिंह ,प्रभात सेठ ,भाजपा बसना के मण्डल अध्यक्च रमेश अग्रवाल ,जितेन्द्र त्रिपाठी ,सुरजीत सिंह छाबड़ा ,जगदीश प्रधान ,पिरितराम सूर्ये , कृष्ण कुमार साहू ,सतपाल सिंह छाबड़ा ,मनोज बारीक सहित अतिथि गण मंचासीन थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button