छत्तीसगढ़देश/विदेशमेरा गांव मेरा शहररायपुर

CG प्रदर्शन: कांग्रेस नेताओं के मोबाइल, पर्स समेत 50 हजार की पाकिटमारी

कांग्रेसी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राजभवन पहुंचकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर लौट आया। मगर जब कार्यक्रम खत्म हुआ तो बहुत से नेताओं के बीच खलबली मच गई। किसी का मोबाइल नहीं मिल रहा था तो किसी के महंगे ब्रांडेड जूते गायब थे।

रायपुर। रायपुर में आज शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन करने जुटे कांग्रेसी नेता चोरी की घटना के शिकार हो गए। बताया जा रहा है कि कई कांग्रेस नेताओं के सामान भीड़ में इधर-उधर हो गए। कुछ नेताओं के साथ हुई घटना से साफ पता चलता है कि प्रदर्शनकारियों की भीड़ में चोर भी घुसे बैठे थे। अवसर  पाकर नेताओं की जेब से कीमती चीजें इन बदमाशों ने पार कर दी।

बतादें, रायपुर  राजधानी के अंबेडकर चौक में आयोजित धरना कार्यक्रम से जुड़ा हुआ है। देश में बढ़ती महंगाई खाद्य पदार्थों पर लगे GST, अग्निपथ योजना का विरोध करने पूरे प्रदेश में कांग्रेसियों ने धरना दिया। रायपुर में भी कार्यक्रम हुआ धरना देने के बाद कांग्रेसी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राजभवन पहुंचकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर लौट आया। मगर जब कार्यक्रम खत्म हुआ तो बहुत से नेताओं के बीच खलबली मच गई। किसी का मोबाइल नहीं मिल रहा था तो किसी के महंगे ब्रांडेड जूते गायब थे।

क्रिप्टो करेंसी वाली कंपनी पर ED का रेड, WazirX के 65 करोड़ रुपए सील

रुपए हुए गायब

पुलिस सूत्रों ने बताया कि रायपुर जिला कांग्रेस कमेटी के ग्रामीण अध्यक्ष उधोराम वर्मा (udhoram verma) की जेब से किसी ने 50 हजार पार कर दिए। बताया जा रहा है कि विरोध प्रदर्शन कर रहे उधोराम वर्मा को पता ही नहीं चला कि कब उनकी जेब काट ली गई। Police को शिकायत देकर उधोराम वर्मा ने कार्रवाई की मांग की है।

पुलिस के लिए चुनौती

इस प्रदेश स्तरीय धरना प्रदर्शन के दौरान तमाम MLA , मंत्री, प्रदेश के बड़े कांग्रेसी नेता पहुंचे हुए थे। इन सभी को सिक्योरिटी प्रदान की गई है, वो पुलिस कर्मी तो साथ आए ही थे। प्रदर्शन की वजह से एक्स्ट्रा फोर्स डिप्लॉय की गई। कार्यक्रम बड़ा था। राजभवन एक प्रतिबंधित इलाका है। आसपास के कई थानों के थानेदार थाने का स्टाफ डीएसपी रैंक के अधिकारी एडिशनल SP जैसे अफसर खुद कार्यक्रम के बीच मौजूद थे। सामान चोरी करने वालों का हौसला खाकी को देखकर नहीं डिगा, जहां तमाम VIP और Police  खुद मौजूद थी। वहीं चोरी का कांड कर डाला।

50 साल पहले भी थी महंगाई और आज भी महंगाई, बदला तो सिर्फ राजनीति

Related Articles

Back to top button