छत्तीसगढ़देश/विदेशमेरा गांव मेरा शहररायपुर

CG इंजीनियर जूही मिसेज इंडिया-INC फर्स्ट रनर अप का जीता खिताब

पेशे से साफ्टवेयर इंजीनियर जूही व्यास (Juhi Vyas) ने सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग लेने के अपने जुनून को अपने पेशे पर हावी नहीं होने दिया और दोनों क्षेत्रों में सफलतापूर्वक अपना दखल बरकरार रखा

रायपुर। छत्तीसगढ़ की प्रतिभाशाली व्यक्तित्व जूही व्यास (Juhi Vyas) ने मुंबई में आयोजित एक भव्य समारोह में मिसेज इंडिया आईएनसी में फर्स्ट रनर अप का खिताब जीता है। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि के लिए अपने छत्तीसगढ़वासियों का आभार जताया है। इस उल्लेखनीय सफलता के बाद जूही 18 जून को छत्तीसगढ़ पहुंच रही हैं। संयुक्त परिवार में निवासरत जूही के परिजन दुर्ग व रायपुर में रहते हैं।

पेशे से साफ्टवेयर इंजीनियर जूही व्यास (Juhi Vyas) ने सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग लेने के अपने जुनून को अपने पेशे पर हावी नहीं होने दिया और दोनों क्षेत्रों में सफलतापूर्वक अपना दखल बरकरार रखा। जूही ने बताया कि मिसेज इंडिया आईएनसी का ग्रैंड फिनाले 15 जून को नेस्को सेंटर, गोरेगांव, मुंबई में आयोजित किया गया। इस शो के सम्मानित जूरी पैनल में अभिनेत्री सोहा अली खान, अभिनेता विवेक ओबेरॉय, क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन, पूर्व मिसेज वर्ल्ड अदिति गोवित्रिकर और मिसेज इंडिया आईएनसी की संस्थापक और सीईओ मोहिनी शर्मा जैसी हस्तियां शामिल थीं। इस प्रतियोगिता में सरगम कौशल विजेता रहीं और उन्हें फर्स्ट रनर अप घोषित किया गया। इस शो को सचिन कुम्भर ने होस्ट किया।

31 वर्षीय जूही (Juhi Vyas) ने बताया कि परिवार में पति शांतनु व्यास (पेशे से व्यवसायी) और दो बच्चों की जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए उन्होंने इस महत्वपूर्ण प्रतियोगिता की तैयारी की। इसके अलावा वह स्वयं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रमाणित मेकअप आर्टिस्ट और हेयर ड्रेसर हैं और सफलतापूर्वक अपना सैलून और स्पा चलाती हैं। अपनी सफलता के बारे में जूही का कहना है कि वह जो कुछ भी करती हैं, उसके मूल में कड़ी मेहनत और समर्पण है और वह हार मानने में विश्वास नहीं रखती।

optical illusion: आपको लगता है कि आप जीनियस हैं, तो इस तस्वीर में छिपे हुए सेलेब को पहचानें

उन्होंने कहा कि वह फिटनेस के प्रति पूरी तरह सचेत रहते हुए सेहत को जीवन की सबसे बड़ी पूंजी मानती हैं। उन्होंने बताया कि फिटनेस के लिए वह सबसे बड़ा योगदान भरतनाट्यम नृत्य को मानती हैं, जो उन्होंने शादी के बाद सीखना शुरू किया था। जूही का कहना है कि भरतनाट्यम सीखने से उनके जीवन में अनुशासन के साथ एक नया अध्याय जुड़ा गया। जूही (Juhi Vyas) कहती हैं मैं वास्तव में संतुलित तरीके से जीवन जीने के ढंग को पसंद करती हैं। इसलिए अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन को समान रूप से समय देने की कोशिश करती हैं। समाज की चुनौतियों की चर्चा करते हुए जूही ने कहा कि एक माँ के रूप में, बच्चों के यौन शोषण के बारे में सोचकर ही मेरा दिल टूट जाता है और मैं एक सुरक्षित समाज में यौन अपराध के आरोपियों के लिए कठोर दंड की दिशा में काम करना चाहती हूँ।

(Juhi Vyas) कहती हैं-मेरा मानना है कि मिसेज इंडिया आईएनसी के प्रतिष्ठित मंच के माध्यम से अपनी राय जाहिर करने और इस दुनिया में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए मेरी पहुंच अधिक से अधिक लोगों तक होगी। जूही ने बताया कि अगले साल वह मिसेज गैलेक्सी में विश्व स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रही हैं। शिक्षक नगर दुर्ग स्थित निवास में जूही के स्वागत की तैयारियां चल रही हैं। उनके परिवार में ससुर स्व. कैप्टन सुभाष व्यास थे। वहीं परिवार के अन्य सदस्यों में सास डॉ. सविता व्यास, गौतम व्यास, ग्रीष्मा व्यास, कुसुमलता अग्रवाल, मिस बी. व्यास,पूर्वी ओस्तवाल व सिद्धार्थ ओस्तवाल सहित तमाम लोग उनके स्वागत की तैयारियों में जुटे हैं।

Related Articles

Back to top button