CG: सावन में पति देव ने खाया मुर्गा, गुस्से में पत्नी कर ली खुदखुशी… मिट्‌टीतेल डालकर लगा ली आग

0
69
webmorcha.com

रायपुर। अंबिकापुर में सावन के आखिरी दिन रक्षाबंधन पर पति ने मुर्गा खा लिया। पत्नी गुस्से से आग बगुला हुई और मिट्‌टीतेल डाल कर खुदखुशी कर ली। अपने मायके से लौटी महिला ने पति को चाची के घर में मूर्गा (Chicken) खाते देखा तो उसे बेहद गुस्सा आई। पति से हुए झगड़ा के बाद महिला घर गई और मिट्‌टीतेल डालकर खुद को आग लगा ली। महिला को मेडिकल कॉलेज में एडमिट कराया गया। सोमवार सुबह उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

बतादें, सूरजपुर के भटगांव क्षेत्र के करौंदा गांव निवासी मनीषा सिंह (19) रक्षाबंधन के दिन रविवार को पति रामजन्म के साथ राखी बांधने के लिए अपने मायके चली गई थी। वहां से शाम को दोनों घर लौट आए। इस बीच रामजन्म पड़ोस में रहने वाली अपनी आंटी के घर पहुंचा और वहां चिकन (Chicken) पकाने लगा। थोड़ी देर बाद मनीषा (Manisha) पहुंची तो उसने रामजन्म को चिकन खाने से मना किया। इसके बाद भी वह नहीं माना और खा लिया।

CG: BJP पार्षद की घिनौनी हरकत…दोस्त की बीबी से SEX की डिमांड…पुलिस ने दर्ज की मामला

घर जाकर खुद को लगा ली आग

मनीषा (Manisha) ने पति से कहा कि सावन के आखिरी दिन और रक्षाबंधन में मुर्गा (Chicken) खाकर गलती की है। इसके बाद वह गुस्से में वहां से निकल कर घर चली गई। थोड़ी देर बाद रामजन्म उसे समझाने के लिए घर जाने लगा तो चीख-पुकार की आवाज सुनाई देने लगी। इस पर अन्य लोग भी दौड़कर मौके पर पहुंचे तो देखा कि मनीषा (Manisha) आग की लपटों में घिरी थी। किसी तरह आग बुझाई गई, लेकिन तब तक गंभीर रूप से झुलस गई थी।

सावन का उपवास रखती थी, Chicken खाना बर्दाश्त नहीं हुआ

परिजन उसे भटगांव स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, लेकिन हालत गंभीर देख 108 एंबुलेंस से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। महिला के पति रामजन्म ने बताया कि मनीषा (Manisha)  सावन में उपवास रहती थी। अंतिम दिन मुर्गा (Chicken) खाते देख उससे बर्दाश्त नहीं हुआ। घर में उसने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। फिलहाल शव परिजनों को सौंप दिया गया है। जिसके बाद वे गांव लौट गए हैं।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123