छत्तीसगढ़ में कोविड का तांडव, रोज तोड़ रहे रिकार्ड…महासमुंद रायपुर, दुर्ग समेत यहां आज से नाइट कर्फ्यू

छत्तीसगढ़ नाइट कर्फ्यू। में एक बार फिर कोविड-19 ने अपना विकराल रूप दिखाना शुरू कर दिया है। प्रदेश में मंगलवार को 3 हजार 108 नये कोविड-19 संक्रमित सामने आये हैं। वहीं 24 घंटें के भीतर 29 मरीजों की मौत हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अधिकारियों ने कोविड-19 के नये वेरिएंट के उदय की आशंका जाहिर की है। प्रदेश में कोविड के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इसके चलते रायपुर राजधानी सहित प्रदेश के 16 जिलों में नाइट कर्फ्यू की घोषणा कर दी है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार देर रात जारी आंकड़ों में कोविड-19 के भयावह होते जाने की कहानी दिखती है। मंगलवार को 3 हजार 108 मरीजों का पता चला। वहीं 987 लोगों को अस्पतालों और होम आइसोलेशन से छुट्‌टी दी गई। इनको मिलाकर प्रदेश में कोविड-19 एक्टिव मरीजों की संख्या 22 हजार 57 हो गई है। कोविड-19 मरीजों का यह आंकड़ा 2021 में एक दिन में मरीजों की दूसरी सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले 27 मार्च को 3 हजार 162 मरीजों का आंकड़ा आया था।

प्रदेश में एक दिन में सर्वाधिक कोविड-19 मरीजों का आंकड़ा 3 हजार 896 है, जो बीते साल 26 सितम्बर को सामने आया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डॉ. प्रणित कुमार फटाले ने चेतावनी दी है कि वायरस के उच्च संचरण से नए वेरिएंट का उदय हो सकता है। केवल टीके से ही इससे बचा जा सकता है। यूनिसेफ के स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. श्रीधर प्रह्लाद ने कहा है, अगर बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ या किसी अन्य असुविधा के लक्षण दिखता है तो लोगों को अपनी जांच करानी चाहिए। उन्होंने कहा, लोगों को कोरोना की जांच से परहेज नहीं करना चाहिये।

कर्क, सिंह, कन्या, मकर और कुंभ के लिए गोल्डन समय, तुला, मिथुन और मीन जोखिम कार्य से बचें

प्रदेश के 8 जिले में 100 से अधिक मरीज दुर्ग-रायपुर में गंभीर

मंगलवार को सामने आये आंकड़ों में प्रदेश के सभी जिलों में संक्रमण का बढ़ा हुआ आंकड़ा दिख रहा है। प्रदेश के आठ जिलों में नये संक्रमण की संख्या 100 से अधिक है। वहीं रायपुर और दुर्ग की स्थिति सबसे गंभीर बनी हुई है। दुर्ग जिले में 769 नये मामले आये। इनको मिलाकर जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 8165 हो गई है। रायपुर में 728 नये मामलों के साथ एक्टिव मरीजों की संख्या 5606 हो गई। राजनांदगांव में 245, बेमेतरा में 200, बिलासपुर में 163, महासमुंद में 119, बालोद में 114 और कोरबा में 108 नये मामले आये हैं।

राजधानी रायपुर-दुर्ग में ही 20 मौतें

बीते 24 घंटे के दौरान छत्तीसगढ़ के 29 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। इनमें से 20 मौतें रायपुर और दुर्ग जिले में ही हुई हैं। रायपुर जिले में 16 मौत हुई है। यह मौतें शहर के DD नगर, कोटा, सिलतरा, कृष्णा नगर, बिरगांव, चंगोराभाठा, ईदगाहभाठा, एश्वर्या किंगडम, प्रेमनगर और मोहरेंगा क्षेत्र के मरीजों की हुई है। दुर्ग जिले में चार मौतें केवल भिलाई से हुई हैं। शेष दो मरीज दुर्ग और बोरवाय के थे।

रायपुर समेत 10 जिलों से नाइट कर्फ्यू

प्रदेश में कोविड के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इसके चलते रायपुर राजधानी सहित प्रदेश के 16 जिलों में नाइट कर्फ्यू की घोषणा कर दी है। जिलों में कर्फ्यू लगाने का फैसला जिला स्तर प्रशासन ने लिया। रायपुर समेत 10 जिलों में रात 9 बजे से सुबह 6 बजे नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा, जबकि जगदलपुर समेत 6 में रात 8 बजे से यह लागू हो जाएगा। संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए 28 मार्च की बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया था।

Chaanaky neeti: आचार्य चाणक्य: इन पांच लोगों का भूलकर भी ना करें भरोसा, हो सकता है मुश्किल

इन जिलों में रहेगा नाइट कर्फ्यू

रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, महासमुंद कोरबा, बालोद, कोंडागांव, रायगढ़, दंतेवाड़ा और बेमेतरा में दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक पूरी तरह बंद रखे जाएंगे। जबकि, ​​​अंबिकापुर, जगदलपुर, सूरजपुर, कोरिया, जांजगीर-चंपा और जशपुर में रात 8 बजे से लॉकडाउन प्रभावी रहेगा। इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाओं को छूट रहेगी।

सभी व्यपारियों को टाइमिंग लिखने को कहा गया

कलेक्टर ने सभी दुकानदारों और व्यवसायियों को अपने प्रतिष्ठान पर फ्लैक्स लगाने को कहा है। इस फ्लैक्स पर दुकान के खुलने और बंद होने का समय लिखना होगा। यह काम दुकानदार को अपने खर्च में कराना होगा।

मास्क लगाना अनिवार्य

प्रशासन ने सभी तरह की दुकानों में मास्क अनिवार्य कर दिया है। अगर कोई ग्राहक बिना मास्क पहने वहां पहुंच गया तो सबसे पहले उसे मास्क देना होगा। मास्क पहनने के बाद ही ग्राहक को कोई सामान अथवा सेवा दी जा सकेगी। दुकानों में सैनिटाइजर भी रखना अनिवार्य किया गया है। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग भी रखनी होगी।

दो दिन पहले हुआ था फैसला

संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए 28 मार्च की बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया था। स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार इसका फैसला करने के लिए कलेक्टरों को अधिकृत किया गया था। आज दोपहर सबसे पहले सूरजपुर ने नाइट कर्फ्यू का आदेश जारी किया। उसके बाद जशपुर, अम्बिकापुर, रायपुर और दुर्ग आदि ने आदेश जारी किये हैं। सरगुजा संभाग के जिलों में नाइट कर्फ्यू का यह आदेश रात 8 बजे से ही प्रभावी हो जाएगा।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123

Leave a Comment