छत्तीसगढ़मेरा गांव मेरा शहररायपुर

CG आज भारी बारिश की चेतावनी, कई जगहों में व्रजपात की आशंका, पूरे प्रदेश मानसून हुआ सक्रिय

रविवार-सोमवार की रात गरियाबंद, बिलासपुर, मुंगेली और रायगढ़ में जमकर बारिश  हुई। गरियाबंद के छुरा में तो 10 सेंटीमीटर बरसात रिकॉर्ड हुआ है।

रायपुर। प्रदेश में पांच दिन पहले आया दक्षिण-पश्चिम मानसून अब पूरे Chhattisgarh में सक्रिय हो गया है। मौसम विभाग ने इसकी आधिकारिक घोषणा कर दी है। मानसून तंत्र ने 15 जून की रात बस्तर से प्रदेश में प्रवेश किया था। 16 जून को वह दुर्ग तक पहुंच गया। 19 जून की सुबह 8 बजे तक वह दुर्ग में ही अटका रहा था। मौसम विभाग ने आज मंगलवार को एक-दो स्थानों पर भारी बरसात की चेतावनी दी है।

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून की उत्तरी सीमा पोरबंदर, बडौदा, शिवपुरी, रीवा, चुर्क तक पहुंच गई है यानी यह Chhattisgarh की सीमाओं को पार कर उत्तर-प्रदेश, बिहार तक पहुंच गई है। इस दो स्थानीय मौसमी तंत्र भी सक्रिय हुए हैं। एक पूर्व-पश्चिम द्रोणिका पश्चिम उत्तर प्रदेश से बांग्लादेश तक स्थित है। वहीं एक द्रोणिका दक्षिण Chhattisgarh से दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश तक विस्तारित है। इसके प्रभाव से प्रदेश में 21 जून को अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ बिजली गिरने तथा भारी वर्षा होने का अनुमान है।

आज दोपहर में होगा अद्भूत नजारा, गायब हो जाएगी आपकी परछाई

रात में गरियाबंद में खूब बरसात हुई

मौसम विभाग के अनुसार, रविवार-सोमवार की रात गरियाबंद, बिलासपुर, मुंगेली और रायगढ़ में जमकर बारिश  हुई। गरियाबंद के छुरा में तो 10 सेंटीमीटर बरसात रिकॉर्ड हुआ है। वहीं बिलासपुर के कोटा में 9 सेंटीमीटर, मुंगेली के लोरमी में 8 और पथरिया में 7 सेंटीमीटर बरसात दर्ज हुई है। रायपुर, बलौदा बाजार, धमतरी, कबीरधाम, बेमेतरा, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिलों में भी बरसात हुई है। सोमवार को भी सुबह से पूरे प्रदेश में घने बादल छाए हुए हैं। कहीं-कहीं छिटपुट बरसात की खबर है।

Related Articles

Back to top button