छत्तीसगढ़: कोरबा में चोरी हुआ 800 किलो गाय का गोबर, POLICE ने दर्ज किया मामला

कोरबा। प्रदेश के कोरबा जिले (Korba District) के एक गांव से गाय का गोबर चोरी होने का अनोखा मामला सामने आया है. Police ने रविवार को इस बारे में जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि आठ-नौ जून की मध्यरात्रि में दिपका Police थाना क्षेत्र के धुरेना गांव से 800 किलो गाय का गोबर (Cow Dung) चोरी हो गया, जिसकी कीमत 1600 रुप है. दिपका थाना प्रभारी हरीश तांडेकर (Harish Tandekar) ने कहा कि ग्राम गौथन समिति के अध्यक्ष कमहान सिंह कंवर ने 15 जून को इस बाबत औपचारिक शिकायत दर्ज करायी है.

कंवर ने कहा कि अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है. उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार ने कृमि खाद के उत्पादन के लिए गौधन न्याय योजना की शुरुआत की है, जिसके तहत गाय का गोबर दो रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदा जाता है.

गोधन न्याय योजना का भी जिक्र

बता दें कि छत्तीसगढ़ की सरकार ने जून 2020 में मवेशियों का गोबर खरीदने के लिए गोधन न्याय योजना बनाई थी. इसके तहत गर्वमेंट पशुपालकों से दो रुपए प्रति किलोग्राम की दर से गोबर खरीदती है. यही वजह कि छत्तीसगढ़ में इन दिनों गोबर की चोरी बढ़ गई है. क्योंकि गोबर बेच कर अच्छी कीमत लोगों को मिल रही है. वहीं, कृषि मामलों की एक स्थायी समिति ने केंद्र सरकार से सिफारिश की थी कि वह किसानों से गोबर खरीदने की योजना शुरू करे. लोकसभा (Loksabha) में पेश की गई इस रिपोर्ट में कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़ गर्वमेंट की गोधन न्याय योजना का भी जिक्र किया गया था.

साप्ताहिक राशिफल (21-27 जून): मेष, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वालों की आय में होगी बढ़ोत्तरी, जानें कैसा बीतेगा यह आपका सप्ताह

प्रश्न उठाने वालों के मुंह पर पड़ा है

गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojna) के अंतर्गत कांग्रेस सरकार गाय के गोबर किसानों से एक तय कीमत पर खरीदती है. वहीं, इस सिफारिश को लेकर सीएम भूपेश बघेल में केंद्र सरकार पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि बताया जा रहा है गोबर से पेंट बनाने की योजना के लिए सरकार किसानों से पांच रुपए प्रति किलोग्राम की दर से गाय का गोबर खरीदेगी. मुख्यमंत्री Bhupesh Baghel ने भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री Ajay Chandrakar को निशाने पर लेते हुए कहा, यह गोबर, गोधन न्याय योजना पर सवाल उठाने वालों के मुंह पर पड़ा है।