छत्तीसगढ़: मछली खाने सजा, पेड़ पर बांधकर दो नाबालिग समेत 8 आदिवासियों को डंडे और लात से पीटा, लयाया जुर्माना

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर (Balrampur) में मछली खाने पर आदिवासी युवकों को पेड़ से बांधकर डंडे, लात और थप्पड़ से पीटा गया। उनके ऊपर 35-35 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है। जिसे 15 दिन में सरपंच पति (sarpanch husband) के पास जमा करना है। पीटे गए आदिवासियों में 15-15 साल के दो बच्चे भी शामिल हैं। आरोप है कि इन लोगों ने सरकारी तालाब (government pond) से मछली चोरी कर खाई थी। घटना त्रिकुंडा (trikunda) थाना क्षेत्र की है। Police का कहना है कि शिकायत मिलने पर कार्रवाई करेंगे।

जानकारी के मुताबिक, डिडो चौकी क्षेत्र के रामचंद्रपुर ब्लॉक के ग्राम पंचायत चेरा में पंडो जनजाति के trikunda अनुसार, 8 युवकों को उनके घर से 16 जून को जबरदस्ती दबंग उठाकर ले गए। इसके बाद उन्हें मुर्गी फार्म (chicken farm) के पास बंधक बना लिया गया। इस दौरान एक-एक कर उन्हें पेड़ से बांधा जाता और फिर डंडे से पीटा (beaten with a stick) गया। विरोध करने पर गालियां दी गईं और बेल्ट से हाथ बांधकर जमीन में लिटाकर लात व डंडे से पीटा गया। पूरी घटना का वीडियो भी वायरल है।

पुलिस में शिकायत करने पर और सजा देने की धमकी

आरोप है कि चेरा के सरपंच पति सत्यम यादव (Satyam Yadav) , जितेंद्र प्रताप यादव उर्फ जेपी यादव (JP Yadav) और जय प्रकाश यादव ने खुद भी आदिवासी (Tribal) युवकों को पीटा। इसके बाद अन्य लोगों से भी उनकी पिटाई करवाई। काफी रात तक उन्हें बंधक बना कर रखा गया था। सभी को 35-35 हजार, रुपए जुर्माना जमा करने का फरमान भी सुनाया गया है। बताया जा रहा है कुछ परिवार ने डर से जमा भी कर दिया है। सभी को धमकी दी गई है कि थाने में शिकायत करने पर और सजा दी जाएगी।

छत्तीसगढ़: कोरबा में चोरी हुआ 800 किलो गाय का गोबर, POLICE ने दर्ज किया मामला

गर्वमेंट तालाब से मछली चोरी करने का लगाया आरोप

बताया जा रहा है कि गांव में एक सरकारी तलाब (government pond) है। जहां गांव के दबंग गैरकानूनी तरीके से मछली पालन कर रहे थे। आरोपियों को शक है कि आदिवासियों ने वहां से मछली मारी थी। जिसके बाद उसे खा रहे थे। जिसके बाद देवरूप पंडो (30), राजकुमार पंडो (22), राजबली पंडो (35), रामधनी पंडो (35), लाल बिहारी पंडो (15), सुरेश पंडो (15), मंधारी पंडो (30) और पुरूक पंडो (20) को पीटा गया।

इन लोगों पर है पीटने का आरोप

आदिवासियों (Tribal) से मारपीट करने में सरपंच पति सत्यम यादव, जितेंद्र प्रताप यादव उर्फ जेपी यादव, चंद्रिका प्रसाद यादव, बंशीधर यादव, बासदेव यादव, आलोक यादव, जितेंद्र यादव, जय प्रकाश यादव उर्फ नान्हू यादव, उमेश यादव, बैजनाथ यादव, नंदलाल यादव, जमुना यादव, प्रदीप यादव, राजकुमार यादव पर आरोप है।