छत्तीसगढ़: गांव में पहुंचा भालू और बैल से हुआ सामना, बैल ने भालू को पटक-पटक कर मारा, डर में भागा और मकान में घुसा, 5 घंटे बाद वन विभाग की टीम कर सकी रेस्क्यू

​​​​​​​पलारी। छत्तीसगढ़ में बलौदाबाजार जिले के एक गांव में आज सुबह एक भालू घुस गया। इस दौरान भालू को बैल से आमना-सामना हो गया। जिसमें यहां के बैलों ने भालू पर ही हमला कर दिया और भालू को बीच बस्ती में ही दौड़ा-दौड़ा कर पटक-पटक कर मारा। बचने के लिए भालू एक भवन  में घुस गया। उसे देखकर घर वाले निकल कर वहां से भागे और भालू को अंदर ही बंद कर दिया। सूचना मिलने पर Police तो पहुंच गई, लेकिन वन विभाग की टीम करीब 4 घंटे बाद घटना स्थल पर पहुंची। एक घंटे की मशक्कत के बाद उसे रेस्क्यू किया गया और फिर जंगल में ले जाकर छोड़ा।

बतादें, पलारी के गांव मोहान में मंगलवार आज सुबह एक भालू घुस आया। भालू को पकड़ने के लिए वन विभाग की टीम ने जाल फंसाया। इसमें शहद और लौकी रखकर उसे आने का लालच दिया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद किसी तरह से भालू बाहर निकला। उसे पिंजरे में कैद कर लिया और फिर वन विभाग की टीम ने बार नयापारा के जंगल में ले जाकर छोड़ दिया गया। इस दौरान करीब 5 घंटे तक घर वाले बाहर ही खड़े रहे और ग्रामीणों का हुजूम भी वहां एकत्र हो गया था। रेस्क्यू के दौरान DFO के आर बड़ाई भी मौजूद रहे।

टीवी एंकर बनी एक्टर : चारुल मालिक एण्डटीवी के ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ के कलाकारों में हुईं शामिल

बैलों की एकजुटता से भालू हुआ परास्त

ग्रामीणों के अनुसार, जब भालू आया उस समय चौक पर बैल खड़े हुए थे। भालू ने उन पर हमला किया तो बैलों ने उसे कई बार पटका। इस पर भालू वहां से भागा तो बैलों ने उसका पीछा भी किया था, लेकिन छिपने के कारण बच गया होगा। घर में छिपे भालू को इसके चलते हल्की चोट भी लगी थी। वह थका हुआ था और घर के अंदर जाकर सो गया। आशंका जताई जा रही है कि महानदी पार कर भालू गांव में घुसा होगा।