छत्तीसगढ़: सो रहे श्रमिकों को ट्रेलर ने कुचला…रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी ने रातभर लाश को परिजनों से छपाए रखी घटना, जानकारी के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने की तोड़फोड़

कोरबा। कोरबा के कटघोरा क्षेत्र में शुक्रवार देर रात ट्रेलर ने सड़क किनारे आराम कर रहे दो श्रमिकों को कुचल दिया। दोनों की दर्दनाक मौत हो गई। ये श्रमिक सड़क निर्माण के काम में लगे थे। कंस्ट्रक्शन कंपनी ने रमिकों की मौत की जानकारी रातभर उनके परिजन को नहीं दी। सुबह जैसे ही परिजनों और ग्रामीणों को लगी तो बेस कैंप में जमकर तोड़फोड़ करने के बाद ट्रक में आग लगा दी। इस दौरान कंपनी प्रबंधन के लोग भाग गए। बहरहाल, मौके पर Police फोर्स तैनात कर दी गई है।

जानकारी के अनुसार, बिलासपुर-कटघोरा के बीच फोरलेन सड़क निर्माण कार्य चल रहा है। इसका ठेका दिलीप बिल्डकॉन कंपनी (Dilip Buildcon Company) को मिला है। कंपनी ने चैतमा में अपना बेस कैंप बना रखा है। यहां स्थानीय निवासी प्रकाश (22) पुत्र फिरत चौहान और रवि सिंह (19) पुत्र परमेश्वर राजपूत भी काम कर रहे थे। दोनों की नाइट ड्यूटी (night duty) थी। थकान होने के कारण दोनों वहीं पड़ी गिट्‌टी पर लेट गए। बताया जा रहा है कि इसी दौरान देर रात करीब 2.15 बजे एक ट्रेलर ने बैक करते हुए उन्हें कुचल दिया।

महासमुंद: लक्जरी कार चोरी करने वाले सात शातिर चोर गिरफ्तार, पकड़े गए आरोपियों में से 4 एक ही गांव के

सुबह परिजन एवं ग्रामीणों को पता चला था आक्रोश फैल गया

घटना को प्रबंधन ने पूरे रात छिपाकर रखा। सुबह करीब 7 बजे दोनों मजदूरों को पाली CHC लेकर गए। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों को जानकारी दी गई, जबकि उनके घर वहां से महज 30-40 मीटर की दूरी पर है। सुबह घटना का पता चलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण कैंप में पहुंच गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

webmorcha.com
कोरबा। कोरबा के कटघोरा

लापरवाही ने ले ली श्रमिक की जान, ट्रक ड्राइवर फरार

बताया जा रहा है कि घटना के बाद मौके पर ही एक श्रमिक की मौत हो गई थी, जबकि एक की सांसें चल रही थीं, लेकिन उसे अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था नहीं की गई। इसके कारण थोड़ी देर बाद उसने भी दम तोड़ दिया। दोनों मजदूर नाइट शिफ्ट में गिट्‌टी प्लांट में काम करते थे।