छत्तीसगढ़: कल से थम जाएंगे यात्री बसों के चक्के, बस ऑपरेटर्स हड़ताल पर जाएंगे

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) बस ऑपरेटरों ने मंगलवार से बसें बंद करने का ऐलान किया है. बस ऑपरेटरों (Bus Operators) ने घोषणा की है कि छत्तीसगढ़ में मंगलवार से बसों के चक्के थम जाएंगे. अनिश्चितकाल के लिए सड़कों पर नहीं दिखेगी. बताया जा रहा है कि करीब 12 हजार बसें मंगलवार से अनिश्चितकाल के लिए खड़ी हो जाएंगी. इससे यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जानें में काफी समस्याओं का सामना करना होगा. ऐसे में जनता के लिए मात्र ट्रेन ही यात्रा के लिए विकल्प बचेगा.

जानकारी के अनुसार, बस संचालकों का प्रदेश स्तरीय धरना कल से शुरू हो जाएगा. बस ऑपरेटर रायपुर के बुढ़ापारा स्थित धरना स्थल पर अभी भी धरना दें रहे हैं. वे 2 सूत्रीय मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं. वहीं, कल प्रदेशभर के बस ऑपरेटरों का विरोध प्रदर्शन होगा. बता दें कि बस ऑपरेटरों की मांग है कि यात्री बस किराए में 40 फ़ीसदी की वृद्धि हो. साथ ही उपयोग न होने वाले बसों के टैक्स भी सरकार माफ करे. कहा जा रहा है कि पेट्रोल डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि से बस संचालक परेशान हैं.

महासमुंद: कटहल और गोभी के बाद अब पानी की टंकी के जरिए गांजा की तस्करी, 52 लाख का गांजा जब्त, आरोपी पकड़ से बाहर

कोविड काल में बड़ी आर्थिक नुकसान हुआ है

कहा जा रहा है कि बस मालिक कल से शुरू होने वाली अनिश्चित कालीन हड़ताल की रणनीति बनाने के लिए भी बैठक करेंगे. दरअसल, बस मालिकों का कहना है कि उन्हें कोरोना काल में बड़ी आर्थिक नुकसान हुआ है. बस मालिक सरकार से चालू बसों पर 40 फीसदी ​यात्री किराया बढ़ाने और जो बसे रोड पर नहीं चल रही हैं उन पर टैक्स माफ करने की मांग कर रहे हैं. इन लोगों का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से कोरोबार चौपट हो गया है. साथ ही डीजल की बढ़ती कीमतों ने कमर तोड़ दी है. जबकि, किराए में अभी तक कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है.

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn