Web Morchaछत्तीसगढ़मेरा गांव मेरा शहररायपुर

नाचा से छत्तीसगढ़ी संस्कृति ने बनाई सात समुंदर पार अपनी पहचान : मंत्री अमरजीत भगत

रायपुर। उत्तर अमेरिका (North America) में छत्तीसगढ़ संस्कृति की छटा बिखेरने के लिए कार्यक्रम की रूपरेखा बनाई जा रही है। नार्थ अमेरिका (North America) छत्तीसगढ़ संघ (नाचा) उत्तर अमेरिका द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका शिकागो, न्यूयॉर्क, ह्यूस्टन, कैरोलिना, डेनवर और कनाडा के टोरंटो में 5 दिवसीय सम्मेलन 12 से 21 नवम्बर तक  प्रस्तावित किया गया है। इस परिप्रेक्ष्य में संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत (Amarjit Bhagat) और नाचा के पदाधिकारियों के बीच ऑनलाईन बैठक हुई। मंत्री अमरजीत भगत ने नाचा के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि यह अच्छी बात है

कि नार्थ अमेरिका नाचा संस्था छत्तीसगढ़ की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए उल्लेखनीय कार्य कर रही है। छत्तीसगढ़ की विरासत को बढ़ावा देने के लिए एक ग्लोबल मीट (global meat) का आयोजन किया जाएगा। इसमें प्रस्ताव दिया गया है कि वेबसाइट (Website) में अंग्रेज़ी से हिन्दी, हिन्दी-अंग्रेज़ी से छत्तीसगढ़ी भाषा तक विस्तारित करने के लिए कई अध्याय जोड़े जाएँगे। संस्कृति मंत्री ने कहा, छत्तीसगढ़ सरकार उनके इस नेक काम में सदैव उनके साथ है। छत्तीसगढ़ी संस्कृति के विकास की दिशा में नाचा के आयोजनो में सरकार संयुक्त रूप से नॉर्थ अमेरिका छत्तीसगढ़ संघ के साथ काम करेगी ताकि सात समंदर पार भी छत्तीसगढ़ी संस्कृति अपनी पहचान मज़बूत करें।

बैठक में नाचा के सदस्यों ने बताया कि समय-समय पर नाचा द्वारा छत्तीसगढ़ी व आदिवासी संस्कृति पर आधारित कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। शहीद वीर नारायण सिंह की वीरता की कहानी को भी नाचा ने अमेरिका में प्रस्तुत किया था। सन 2020 में नाचा द्वारा एक बड़ा आयोजन किया गया था। छत्तीसगढ़ी संस्कृति को बढ़ावा देने वाले इस आयोजन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए थे। साथ ही प्रतिवर्ष 15 अगस्त को शिकागो में छत्तीसगढ़ी संस्कृति की झांकी प्रस्तुत की जाती है।

उन्होंने बताया कि गांव-गांव तक छत्तीसगढ़ की विविध संस्कृति को पहुँचाने के लिए और अन्य सदस्यों को जोड़ने के लिए नाचा द्वारा समन्वयकों का गठन किया जा रहा है। साथ ही छत्तीसगढ़ी कला-संस्कृति, साहित्य को बढ़ावा देने के लिए नाचा द्वारा स्थानीय स्तर पर छत्तीसगढ़ी फिल्मों का प्रसारण किया जा रहा है। बैठक में नॉर्थ अमेरिका छत्तीसगढ़ संघ (नाचा) के अध्यक्ष गणेश कर, महासचिव सोनल अग्रवाल, संस्थापक दीपाली सरावगी, कार्यकारी उपाध्यक्ष शत्रुघ्न बरेथ, कोषाध्यक्ष नितिन विश्वकर्मा, वरिष्ठ सलाहकार चंद्रकांत पटेल शामिल हुए थे।

Related Articles

Back to top button