बस्तर

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना : अधिकारी-जनप्रतिनिधि बने बाराती-घराती, 205 दूल्हों की निकली धूमधाम से बारात

कोण्डागांव। विकासखण्ड मुख्यालय फरसगांव में 24 जून को अस्पताल ग्राउण्ड में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित सामुहिक विवाह कार्यक्रम कई मायनो में ऐतिहासिक रहा। एक तो जिले में प्रथम बार कार्यक्रम में सर्व समाज के रीति-रिवाज के अनुरूप वैवाहिक रस्म निभाये गए। सभी नवविवाहित युगलों को गृहस्थी के साजोसमान के अलावा नीबू, नारियल, पपीता जैसे पौधे भी उपहार मे देकर पर्यावरण के प्रति जागरूक किया गया।

चर्चा का विषय बना रहा

  • जिला कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम के मार्गदर्शन में आयोजित उक्त कार्यक्रम उपस्थित जनप्रतिनिधियों के मध्य भी चर्चा का विषय बना रहा।
  • इस कार्यक्रम के अन्तर्गत आर्शीवाद समारोह में नागरिक आपूर्ति निगम अध्यक्ष लता उसेण्डी, विधायक कोण्डागांव मोहन मरकाम, विधायक केशकाल संतराम नेताम, पूर्व विधायक सेवक राम नेताम, अध्यक्ष जिला पंचायत देवचंद मातलाम उपस्थित रहे।

बस्तर की वैवाहिक परम्पराओं का निर्वहन

यहां पढ़िए: सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा: मातृभूमि की रक्षा…

  • महिला बाल विकास विभाग एवं जिला प्रशासन के तत्वाधान में इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम में बस्तर की सांस्कृतिक लोक परम्परा और आदि काल से चले आ रहे सामाजिक रीति रिवाजो का पूर्णतः ध्यान में रखकर आयोजन सम्पन्न किया गया।
  • शुरूवात में पुजारी, गायताओं के साथ वर और वधु पक्ष के परिजन जनप्रतिनिधि और कर्मचारी शीतला मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना किया।
  • पश्चात देवतेल लेकर विवाह स्थल पंहुचे।
  • जहां महिला एंव बाल विकास विभाग के कर्मचारियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया।
  • लोक परम्परा के अनुसार इस दौरान लोक गीतों के साथ-साथ माहरी, मांदरी, बाजा की आवाज विवाह स्थल में लगातार गूंजती रही।
  • माहला रस्म की अदायगी के बाद वर वधु पक्ष का समधी भेंट कार्यक्रम किया गया।
  • वर-वधु पक्ष के परिजनों द्वारा तेल चढ़ाने और देर रात तक मड़वा नाचने की परम्परा भी अदा की गई।
  • विवाह स्थल पर बस्तर की लोक परम्परा के अनुरूप महुआ वृक्ष की डालियों से मण्डपाच्छादन भी किया गया था।
  • रस्म अदायगी के क्षणों मे बस्तर संभाग के कमिश्नर दिलीप वासनीकर, जिला कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम सहित जनप्रतिनिधिगण एंव जिले के आला अधिकारी उपस्थित थे।

सभी समाजों की रही सहभागिता

http://रायपुर में दिनदहाड़े चोरी, चोरों ने 9 लाख के जेवरात सहित नगदी किए पार

  • दो दिवस तक चलने वाले इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम में गोंड़, हल्बा, यादव, कलार साहू, निषाद, मरार, लोहार, क्षत्रीय, कोष्टा समाजो के वर-वधु के अलावा समाज प्रमुखों की सहभागिता रही।
  • मौके पर सभी समाजों के अनुरूप वैवाहिक अनुष्ठान भी सम्पन्न किए गए।
  • इसी प्रकार दूसरे दिन 24 जून को लगन एंव आर्शीवाद के समारोह के तहत 205 दूल्हो की धूम धाम से बारात मुख्य आकर्षण का केन्द्र बना।
  • जहां विधायक मोहन मरकाम ने वधु पक्ष और लता उसेण्डी एवं जिला कलेक्टर व अधिकारीगण वर पक्ष के परिजन बने।
  • मौके पर नॉन अध्यक्ष लता उसेण्डी ने कहा कि निर्धन मां-बाप को बेटियों की शादियो के लिए हमेशा चितां बनी रहती है।
  • परिवार को इसी चिन्ता को दूर करने एंव सम्मान के साथ बेटी का विवाह करने के उद्देश्य से प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ0 रमन सिंह ने मुख्यमंत्री कन्या योजना प्रारभं किया है।
  • परिवार की जिम्मेदारी लेकर हजारो परिवारो का घर बसाया है।
  • विधायक मोहन मरकाम ने कहा कि सामाजिक रीति-रिवाजों के साथ विवाह सम्पन्न करवाना जिला प्रशासन की सबसे बड़ी सफलता है।
  • इसके लिए जिले के उर्जावान कलेक्टर एंव विभागीय मैदानी कर्मचारी साधुवाद के पात्र है।
  • विधायक संतराम मरकाम, पूर्व विधायक सेवकराम नेताम तथा जिला पंचायत अध्यक्ष देवचदं मातलाम द्वारा नवदम्पतियों के प्रति आर्शीवचन कहे गए।

नवदम्पतियों को दिए गए उपहार

  • विभागों द्वारा नवविवाहित जोड़ों को उपहार स्वरूप सामग्रिया दी गईं।
  • महिला बाल विकास विभाग द्वारा बर्तन आलमारी, पेटी, ज्वेलरी, एंव 1500 रुपए का चेक दिए।
  • कृषि विभाग द्वारा कृषि स्प्रेयर यंत्र, उन्नत मक्का बीज कीट, पैडी वियर यंत्र, श्रम विभाग द्वारा
  • साईकिले, विद्युत विभाग द्वारा एलईडी बल्ब, तथा उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेण्डर और स्टोव प्रदाय किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button