मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने की धान खरीदी की समीक्षा

रायपुर। राज्य में एक दिसम्बर से प्रारंभ हुए धान खरीदी की समीक्षा के दूसरे क्रम में मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समस्त संभागायुक्त और धमतरी-दुर्ग-कवर्धा-मुंगेली-गरियाबंद-कांकेर-सूरजपुर-सरगुजा और बलरामपुर जिले के कलेक्टर की बैठक ली। बैठक में मुख्य रूप से गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष अब तक धान खरीदी की मात्रा तथा कृषक संख्या, मिलर बारदानें समिति में पहुंचाने की स्थिति, आगामी खरीदी हेतु बारदाना की उपलब्धता एवं स्टेकिंग प्लान, समितियों से धान उठाव, मिलर्स द्वारा चावल जमा करना, धान उपार्जन से संबंधित पंजीयन तथा राजस्व अभिलेखों की शुद्धि,

धान खरीदी में संभावित संवेदनशील मामले, कृषकों को बेहतर अनुभव प्रदान करने तथा सूचनाएं एकत्रित करने हेतु जिले के प्रयास, धान खरीदी केन्द्रों पर टीकाकरण एवं कोविड टेस्टिंग की व्यवस्था और कोविड संक्रमण से निपटने हेतु जिलों की तैयारी के संबंध में समीक्षा की गई। निर्धारित विषयों पर जिला कलेक्टरों ने अब तक के प्रगति के विषय में विस्तार से मुख्य सचिव को जानकारी दी। बैठक में जिलों के फीड बैक के आधार पर धान खरीदी में आ रही कठिनाईयों एवं अन्य तकनीकी विषयों का निराकरण राज्य स्तर पर किया जाएगा। मुख्य सचिव जैन ने सभी जिला कलेक्टरों से कहा है कि खरीदी केन्द्रों से ज्यादा से ज्यादा मात्रा में धान का उठाव मिलिंग के लिए मिलरों के द्वारा किया जाए इसके लिए मिलरों को अधिक मात्रा में धान उठाव के कार्य आदेश जारी किए जाए।

उन्होंने टोकन वितरण की सुचारू व्यवस्था को नियमित और निर्बाध रूप से संचालित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा है कि धान खरीदी केन्द्रों में किसानों की सुविधा का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए और छोटे किसानों के धान की खरीदी प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। जैन ने नियमित रूप से धान खरीदी के लिए तैनात जोनल अधिकारियों की बैठक लेकर खरीदी प्रक्रिया में होने वाली कठिनाईयों का निराकरण करने के निर्देश दिए है। विदेशों से आए छत्तीसगढ़ के नागरिकों का टेªसिंग और होम आईसुलेशन की कार्यवाही पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए है।

उन्होंने कहा है कि विदेशों से आए यात्रियों के सात दिन की होम आईसुलेशन की अवधि समाप्त होने के बाद आठवें दिन उनकी आर.टी.पी.सी.आर. जांच अनिवार्य रूप से की जानी है। ज्ञात है कि धान खरीदी की प्रक्रिया के प्रगति की जानकारी के लिए अलग-अलग बिन्दुओं पर मुख्य सचिव अथवा अपर मुख्य सचिव द्वारा जिलों की प्रति सप्ताह समीक्षा की जाएगी। मंगलवार सात दिसम्बर को जांजगीर-चांपा-राजनांदगांव-महासमुंद-बलौदाबाजार-बेमेतरा-रायगढ़-बालोद-रायपुर और बिलासपुर जिले में धान खरीदी की प्रक्रिया की समीक्षा की गई थी। आगामी दिनों में भी जिलों में चल रहे धान खरीदी के प्रगति की समीक्षा की जाएगी। बैठक में खाद्य विभाग के सचिव टोपेश्वर वर्मा, प्रबंध संचालक मार्कफेड सुश्री किरण कौशल, पंजीयक सहकारी समिति हिमशिखर गुप्ता, मिशन संचालक स्वास्थ्य डॉ. प्रियंका शुक्ला उपस्थित थे।

Back to top button