Saturday, January 23, 2021
Home Web Morcha शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा के छात्रों ने किया कमाल,...

शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा के छात्रों ने किया कमाल, पूरे छत्तीसगढ़ से चयनित 9 छात्र में से 7 इस विद्यालय के”

रायपुर। भारत सरकार के डिजिटल इंडिया कार्पोरेशन के एमडी और सीईओ अभिषेक सिंह आईएएस ने युवा दिवस के अवसर पर जारी परिणाम में फेस 2 के लिए देश भर के टॉप 125 छात्रों की सूची जारी की। जिसमें छत्तीसगढ़ से चयनित 9 छात्रो में सर्वाधिक, शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा के 7 छात्रो ने बनाई अपनी जगह।

शाला प्रबंधन एवं विकास समिति के अध्यक्ष विजय शंकर निगम ने बताया कि जब जून महीने में लॉकडाउन के समय स्कूल बंद थे तब राज्य के हजारों बच्चो ने इस कार्यक्रम के लिए अपना पंजीयन कराया। तथा ऑनलाइन प्रशिक्षण प्राप्त किया। उस समय नर्रा स्कूल के प्राचार्य सुबोध कुमार तिवारी के मार्गदर्शन एवं तकनीकी निर्देशन में छात्रों ने अपनी तैयारी की और यह उपलब्धि अर्जित किया है।

webmorcha.com
सुबोध कुमार तिवारी व्याख्याता जिनका मार्गदर्शन

जानिए क्या है कार्यक्रम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फॉर यूथ ?

भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय तथा विश्व के प्रसिद्ध सॉफ्टवेयर कंपनी इंटेल के सहयोग से आयोजित कार्यक्रम ए.आई. फॉर यूथ में देश के केवल सरकारी स्कूलों के छात्रों को नवीनतम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक से रूबरू कराने तथा उनके द्वारा समाज के समस्याओं का ए.आई. के उपयोग से समाधान ढूंढने के लिए यह कार्यक्रम चलाया गया।

कब क्या हुआ ?

1.जून 2020 में कुल 52628 छात्र पंजीकृत

2.First level me। 11,466 छात्रों ने लिया प्रशिक्षण

  1. जुलाई 2020 पूरे देश के 35 राज्य से 2536 शिक्षकों ने लिया प्रशिक्षण
  2. अगस्त 2020 में 2441 छात्रों से 2704 आइडियास जमा किए गए पूरे देश से
  3. आज 12 जनवरी 2021 को जारी परिणाम में फेस 2 के लिए देश भर के टॉप 125 छात्रों की सूची जारी की गई।

जिनमे छत्तीसगढ़ राज्य से 9 छात्र चयनित हुए ,जिनमें से सात  महासमुंद जिले के शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा स्कूल से हैं।

आगे क्या होगा:- फेस 2 के लिए चयनित छात्रों को इंटेल के इंजीनियर प्रशिक्षण देंगे उनकी कार्यशाला आयोजित की जाएगी जिनमे चयनित छात्रों के आइडिया को वर्किंग प्रोटोटाइप में  ढाला जाएगा तथा  उनमें से टॉप 30 को  फेस 3 में अंतिम रूप से विजेता घोषित किया जाएगा।

आयोजक

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली और दुनिया की प्रसिद्ध सॉफ्टवेयर कंपनी इंटेल के सहयोग से आयोजित हुआ।

परिणाम की घोषणा

भारत सरकार के digital India corporation ke MD aur CEO डिजिटल इंडिया कार्पोरेशन के अभिषेक सिंह आईएएस ने आज युवा दिवस के अवसर पर किया। प्रशिक्षण इंटेल के  विशेषज्ञ इंजीनियर ने दिया,जिसके बाद चयनित छात्रों से प्रॉब्लम सॉल्विंग आइडियास आमंत्रित किए गए। छात्रों ने अपने समाज की समस्याओं के तकनीकी समाधान ढूंढने के लिए अपने आइडियास जमा किया

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने में नर्रा के छात्र निभाएंगे सहभागिता

देश भर से प्राप्त कुल आइडियास में से युवा दिवस के अवसर पर विभाग के एमडी और मुख्य कार्यपालन अधिकारी अभिषेक सिंह आईएएस ने फेस 2 के लिए टॉप 100 छात्रों के  परिणाम जारी किए।

‌इनमे छत्तीसगढ़ से कुल 9 छात्रों का चयन हुआ है,जिनमें से सात छात्र महासमुंद जिले के शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा के हैं। एक शासकीय गर्ल्स हायर सेकंडरी स्कूल रायपुर से तथा एक शासकीय स्कूल बेमेतरा से हैं

‌‌आगे क्या होगा?

‌‌फेस 2 के लिए चयनित छात्रों को इंटेल के इंजीनियर प्रशिक्षण देंगे उनकी कार्यशाला आयोजित की जाएगी जिनमे चयनित छात्रों के आइडिया को वर्किंग प्रोटोटाइप में  ढाला जाएगा तथा  उनमें से टॉप 30 को  फेस 3 में अंतिम रूप से विजेता घोषित किया जाएगा।

‌आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

इंसानों में ये गुण प्राकृतिक रूप से पाया जाता है, कि उनमें सोचने-समझने और सीखने की क्षमता होती है ठीक उसी तरह एक ऐसा सिस्टम विकसित करना जो आर्टिफिशियल तरीके से सोचने, समझने और सीखने की क्षमता रखता हो और व्यवहार करने और प्रतिक्रिया देने में मानव से भी बेहतर हो, उसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहते हैं।

नर्रा के छात्र बॉम्बे के साथ जुड़कर विश्व रिकॉर्ड बनाने में बनाई सहभागिता

असल में कृत्रिम बुद्धिमत्ता एक ऐसा अध्ययन

है जिसमें ऐसा सॉफ्टवेयर विकसित किया जाता है, जिससे एक कंप्यूटर इंसान की तरह और इंसान से भी बेहतर प्रतिक्रिया (रेस्पॉन्स) दे सके।

एक्सपर्ट सिस्टम, गेम प्लेयिंग, स्पीच रिकग्निशन, नेचुरल लैंग्वेज, कंप्यूटर विज़न, न्यूरल नेटवर्क, रोबोटिक्स, फाइनेंस, कंप्यूटर साइंस, वेदर फोरकास्ट और एविएशन AI  के मुख्य एप्लीकेशन हैं। AI ने इंसानों के काम को बहुत आसान बना दिया है। जो काम 100 इंसानी दिमाग मिलकर करते हैं उसे एक मशीन कुछ ही घंटो में कर देती है। नर्रा के छात्रों ने कृषि, ग्रामीण अर्थवयवस्था, ग्रामीण स्वास्थ्य से सम्बन्धी समस्याओं के  आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के सहायता से समधन हेतु कार्य करेंगे इंटेल के साथ मिलकर।

छत्तीसगढ़ से चयनित छात्रों के नाम:-

1 वैभव देवांगन शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com
vaibhav dewangan

  1. धीरज यादव शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

3.घनश्याम निषाद, शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com

  1. यमुना यादव, शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com

  1. हिमांशी देवांगन शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com

  1. परमेश्वरी यादव शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com

  1. गोपिका देवांगन शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा, जिला महासमुन्द

webmorcha.com

8.अंजलि निर्मलकर, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, लेंजवारा, जिला बेमेतरा

9.अंकिता नामदेव, शासकीय गर्ल्स हायर सेकंडरी स्कूल रायपुर

चयन सूची से शिक्षा मंत्री हुए प्रभावित

सरकारी स्कूल के बच्चो के राष्ट्रीय प्रतियोगिता में राज्य के 9 छात्रों के चयन से राज्य के शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम प्रभावित हुए हैं। उन्होंने महासमुंद जिले के शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नर्रा से एक साथ 7 छात्रों के चयन पर विद्यालय के व्याख्याता सुबोध कुमार तिवारी  को फोन में चयनित छात्रों  एवम् विद्यालय परिवार को उनके मेहनत के लिए बधाई देते हुए आगे के लिए शुभकामनाएं दी है।

छत्तीसगढ़ शासन के संसदीय सचिव, शिक्षा एवं विधायक खल्लारी द्वारकाधीश यादव ने भी इस उपलब्धि के लिए शाला परिवार को बधाई देते हुए छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की है। जिला शिक्षा अधिकारी, रॉबर्ट मिंज, सयायक संचालक हिमांशु भारती सहायक संचालक सतीश नायर, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, के. आर.क कोवाची ने भी शाला की इस उपलब्धि के शुभकामना देते हुए शाला एवं छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की है।

विद्यालय की इस उपलब्धधि के लिए शाला प्रबंधन एवं विकास समिति के अध्यक्ष विजय शंकर निगम, शाला में विधायक प्रतिनिधि उमेश जैन , सरपंच गोपाल किशन पटेल , उपसरपंच नूरेन्द्र साहू डा आनंद वर्गीस  दिलीप गुप्ता, मेघनाथ यादव, मुबारक खान, तामेश्वर पटेल, ललित पटेल पूर्णिमा धरम पटेल, प्रेमलता रूपेन्द्र साहू,डेरहा दीवान,

विद्यालय के शिक्षकों  तथा जिला विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद महासमुंद के जिला संयोजक जगदीश सिन्हा, हेमेंद्र आचार्य  एवं अन्य सदस्यों ने शुभकामनाऐं दी है।

छत्तीसगढ़ की एकमात्र नर्रा स्कूल… जिसने गुजरात स्थित अजिलो रिसर्च प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के साथ शाला की ओर से प्राचार्य सुबोध कुमार तिवारी ने एमओयू पर हस्ताक्षर किया

उपलब्धि : रौशनी है किसी के होने से वर्ना बुनियाद तो अंधेरा था, छत्तीसगढ़ के अंतिम सीमा ओडिशा से लगे ग्रामीण अंचल की शासकीय कुलदीप निगम उच्चतर शाला नर्रा के पूर्व छात्र को मिला भारत सरकार का इंस्पायर छात्रवृत्ति

नर्रा स्कूल के नाम एक और उपलब्धि, नीति आयोग ने यहां की लैब को सराहा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -webmorcha.com webmorcha.com

Most Popular

Recent Comments