लगातार लॉकडाउन के कारण सामान्य वर्ग पर आर्थिक संक्रमण का खतरा बढ़ा : शिवसेना सोनु दिवाना

अभनपुर। शिवसेना के एव शिवसैनिक रविकांत तारक (सोनु दिवाना) ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि राज्य सरकार के द्वारा लॉकडाउन बढ़ाने को लेकर सामान्य वर्ग के लिये चिंता वक्त करते हुऐ सरकार से राहत की मांग करती है। केन्द्र व राज्य दोनों मिलकर बिजली बिल माफ्, अप्रैल व मई माह का मकान टैक्स पानी टैक्स व लोन पर लगने वाला ब्याज में छूट दिया जाना चाहिये। जिससे माध्य्म वर्गीय परिवार को बड़ी राहत मिलेगी शिवसेना के शिवसैनिक रविकांत तारक(सोनु दिवाना) ने कहा कि शिवसेना आम जनता के हित मे राज्य सरकार से मांग करती है आगे शिवसेना के रविकांत तारक(सोनु दिवाना) ने बताया कि पूर्व तैयारी के बिना लॉकडाउन को लगातार बढ़ाने से सामान्य परिवार की कमर टूट चुकी है,

http://प्रोफेशन से बढ़कर हो आपका पैशन, कहीं प्रोफेशन की आड़ में छुपकर न रह जाए आपका पैशन

बहुत से लोगो के पास खाने को सब्जी नही। कोरोना संक्रमण तो दूर की बात सामान्य परिवार पर आर्थिक संक्रमण का खतरा बढ़ गया है गरीब वर्ग की तो केंद्र एवं राज्य सरकार दोनों ही पूछ परख कर रहे हैं परंतु सामान्य वर्ग की शुद्ध तक लेने वाला कोई नहीं है। शिवसेना के रविकांत तारक(सोनु दिवाना) ने बताया कि पिछले लाकडाउन में इतना अव्यस्था का आलम नही था । इस बार के जिला कलेक्टर के आदेश से सरकार की ही छवि हास्य का कारण बनती जा रही है। लगतार लाकडाउन से संक्रमण का कितना चेन टूटेगा पता नहीं पर आम लोगों का सामान्य परिवार आर्थिक स्थिति खराब हो चुकी है।

http://छत्तीसगढ़, ओडिशा समेत इस राज्य में बारिश अलर्ट, आगामी तीन दिन तक रहेगा असर

किराये के दुकान, बिजली बिल स्टॉफ़ का वेतन , दुकानों पर लोन, लोन की किस्ती की मार सामान्य वर्ग को ही उठाना पड़ेगा , इसके लिए सरकार ने क्या नीति या सहयोग का निर्धारण किया है ? लाकडाउन में जो लोग घरों पे है उनका तो ठीक है , जो लाकडाउन में भी बहार घूमना नहीं छोड़े उनका क्या ? सरकार के प्रशासन तंत्र ने इस बात की खबर ली जो भीड़ चौक चौराहों पर पर एकत्र है क्या उससे चेन टूटेगा , एक ओर आम जनता सरकारी अस्पतालों के अव्यस्था की बलि चढ़ रही है तो दूसरे और प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी वसूली ने लोगों का जीना दूभर किया हुआ हैं। न प्रशासन इस दिशा में अब तक कोई कार्यवाही ही कि न जाँच किया।