धमतरी: सोना-चॉदी की दो दुकान से 1 करोड़ गहने की चोरी

0
55
webmorcha.com
धमतरी: सोना-चॉदी की दो दुकान से 1 करोड़ गहने की चोरी

धमतरी। धमतरी संकलेचा सोना-चॉदी और प्रवीण सोना-चॉदी से चोरों ने एक करोड़ के गहने और नगदी पार कर दी। आशंका जताई जा रही है कि कि दुकान के पीछे मौजूद खंडहरनुमा भवन से चोर छत पर चढ़कर एक दुकान में घुसे। वहीं बगल में मौजूद एक और सोना-चॉदी दुकान में भी चोरी करने घुसे, पर सफल नहीं हुए तो दुकान संचालक के भवन में ही हाथ साफ कर दिया। दोनों ज्वैलरी शॉप (Jewelery Shop) के संचालक दुकान के ऊपर ही रहते हैं। उन्हें चोरी का पता शनिवार सुबह चल सका।

जानकारी के अनुसार, धमतरी सिटी कोतवाली क्षेत्र के सदर बाजार में प्रवीण संकेलचा की प्रवीण ज्वैलर्स और केवघ संकलेचा की संकलेचा ज्वैलर्स (Jewelery Shop) के नाम से दुकान हैं। दोनों दुकानें अगल-बगल हैं। उनके संचालक परिवार समेत दुकान के ऊपर बने भवन में रहते हैं और आपस में रिश्तेदार हैं। केवघ संकलेचा के परिवार के लोग सुबह सोकर उठे तो देखा कि घर का सामान बिखरा पड़ा है। अलमारी में रखे करीब 35 लाख रुपए के गहने गायब हैं। इस पर उन्होंने इसकी जानकारी प्रवीण संकलेचा को दी।

CG: बड़ी खबर जवानों से भरी बस 15 फीट गहरी खाई में गिरी, 38 जवानों को CM ड्यूटी के लिए जा रहे थे, 12 घायल, 4 गंभीर

चोरी का पता चलने पर प्रवीण ने घर में देखा तो सब ठीक था, लेकिन दुकान (Shop)में घुसे तो देखा कि शोकेस में रखे सारे सोने के गहने गायब थे। चोरों ने चांदी के गहनों को हाथ भी नहीं लगाया था। बताया जा रहा है कि दुकान (Shop) से करीब 600 ग्राम सोने के गहने और 5 लाख रुपए से ऊपर कैश गायब था। चोरी गए माल की कीमत करीब 60 से 70 लाख रुपए बताई जा रही है। हालांकि, अभी सही आंकलन नहीं हो सका है। दो ज्वैलर्स में चोरी की सूचना मिलते ही Police अफसर भी मौके पर पहुंच गए।

ज्वैलर्स की दुकान (Shop) के पीछे ही एक खंडहरनुमा मकान है। आशंका है कि चोर यहीं से छत पर चढ़े होंगे। इसके बाद केवघ संकलेचा के मकान में दाखिल हुए होंगे। दुकान (Shop) में जाने का रास्ता नहीं मिला तो घर में ही चोरी कर ली। वहीं प्रवीण के घर से सीढ़ी के रास्ते दुकान (Shop) में घुसे होंगे। दोनों ने अपने मकानों में CCTV कैमरा नहीं लगवा रखा है, लेकिन दुकानों में लगे हैं। ज्वैलर्स का कहना है कि दुकान (Shop) बंद करने के बाद वह कैमरे भी बंद कर देते थे। इसके चलते चोरों की फुटेज भी नहीं मिल सकी है।

इतनी बड़ी चोरी की सूचना पर SP प्रफुल्ल ठाकुर, साइबर सेल प्रभारी भावेश गौतम, कोतवाली प्रभारी श्रीनाग, अर्जुनी थाना प्रभारी गगन वाजपेयी भी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। रायपुर से फिंगर प्रिंट और डॉग स्क्वॉयड बुलाया गया है। हालांकि, अभी तक की जांच में पुलिस को कोई फिंगर प्रिंट नहीं मिला है। Police मामले की जांच कर रही है। आशंका है कि चोरी करने वाले को पहले से ही घर और दुकान के संबंध में जानकारी थी। इसी के चलते उसने आसानी से दोनों जगह इतना बड़ा हाथ मारा है।