धमतरी

समर्थन मूल्य में धान खरीदी के लिए पुराने बारदानों की व्यवस्था संबंधी मिलर्स के साथ की गई चर्चा

धमतरी। आगामी खरीफ विपणन वर्ष में समर्थन मूल्य में धान उपार्जन के लिए पुराने बारदानों की व्यवस्था के संबंध में जिले के राइस मिलर्स के साथ एक महत्ती बैठक रखी गई।

  • बैठक में मार्कफेड के महाप्रबंधक एम.एल. सिरदार ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य में धान उपार्जन के लिए पिछले साल जैसे ही 50 प्रतिशत नए और 50 प्रतिशत पुराने बारदानों का उपयोग किया जाएगा।
  • जहां नए बारदाने की व्यवस्था शासन के निर्देशानुसार जूट कमिश्नर के माध्यम से मार्कफेड द्वारा की जाएगी, वहीं पुराने बारदाने की व्यवस्था मिलर्स और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत् उचित मूल्य की दुकानों की खाद्यान्न के खाली बारदानों से की जाएगी।

अनेक समस्याओं पर की चर्चा

  • कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित इस बैठक में जिले में अनुमानित उपार्जन के मान से पुराने बारदाने का आंकलन कर मिलर्स के पास उपलब्ध बारदाने की जानकारी लेने संबंधी आवश्यक चर्चा की गई।
  • इस मौके पर मिलर्स ने भी कस्टम मिलिंग, गत वर्ष उपलब्ध कराए गए बारदानों के लंबित भुगतान इत्यादि संबंधी अपनी समस्याएं बैठक में महाप्रबंधक के समक्ष रखीं।
  • साथ ही पुरानी समस्याओं का निराकरण किए जाने की मांग करते हुए आवश्यकतानुसार मार्कफेड को बारदाने उपलब्ध कराए जाने का पूरा आश्वासन दिया।
  • इस मौके पर मार्कफेड, खाद्य, केन्द्रीय सहकारी बैंक, नागरिक आपूर्ति निगम इत्यादि के अधिकारी भी बैठक में मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button