आटो/गैजेटमेरा गांव मेरा शहर

डॉक्टर साहब निकले विकास यात्रा में और यहां अस्पताल में कम्पाउंडर बांट रहे गंभीर बीमारी की दवा

बुंदेली। पिथौरा विकासखंड के गौरव ग्राम बुंदेली में कई वर्षों से आयुर्वेदिक अस्पताल संचालित है। जहां डॉक्टर की स्थाई नियुक्ति नहीं होने से मरीजों में आक्रोश है। यहां के ग्रामीण जिला आयुर्वेदिक अधिकारी से लेकर कलेक्टर जनदर्शन में कई बार चिकित्सक की मांग कर चुके हैं। लेकिन, अधिकारी डॉक्टर की कमी और जल्दी ही डाक्टर की नई नियुक्ति होने पर भेजने की बात कहकर हमेशा टाल देते हैं। अस्पताल में आयुष दीप समिति का संचालन भी नहीं हो रहा है। जिससे अस्पताल में मूलभूत सुविधाओं का अभाव है।

सप्ताह में दो दिन आते हैं डॉक्टर

यहां पढ़िए… ट्रैक्टर में ले जा रहे थे छड़…

ग्राम पंचायत बुंदेली के उपसरपंच पूनम मानिकपुरी ने जिला जनसमस्या निवारण शिविर बढाईपाली में 11 अप्रैल 18 को शासकीय आयुर्वेद औषधालय में डाक्टर की मांग को लेकर आवेदन दिया था। जिला अधिकारी द्वारा बुंदेली आयुर्वेदिक औषधालय में वर्तमान में चिकित्सकीय व्यवस्था के सुचारु रुप से संचालन के लिए सप्ताह में दो दिन गुरुवार एवं शुक्रवार को शासकीय आयुर्वेदिक औषधालय मुनगासेर के डॉक्टर केशर कुमार दीवान को नियुक्त किया गया है। लेकिन, यहां पर मरीज रोज अस्पताल में दवाई लेने आते हैं।

कम्पाउंडर के भरोसे अस्पताल

मरीजों का कहना है कि यहां पर स्थाई चिकित्सक की व्यवस्था हो। ताकि, हमें रोज बीमारी के हिसाब से दवाई मिले। बताया जाता है कि कम्पाउंडर पुनारद दीवान, औषधालय सेवक संतोषी दीवान, पीटीएस बिहारी निषाद वर्तमान में अस्पताल संभाल रहे हैं। ग्रामीणों ने आयुर्वेदिक अस्पताल में स्थाई डाक्टर पदस्थ करने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button