ज्योतिष/धर्म/व्रत/त्येाहारमेरा गांव मेरा शहर

गुरुवार को इस कार्य को भूलकर भी नहीं करें, परिवारिक जीवन पर पड़ेगा प्रभाव

यदि मनुष्य अपनी परिवारिक जीवन को कष्टमय होने से बचाना चाहते हैं तो और परिवारिक जीवन को खुशहाल रखना चाहते हैं तो गुरुवार को बिल्कुल भी नऐसे कार्य नहीं करना चाहिए जिसे हमारी धर्म शास्त्र में मनाही है।

गुरुवार उपाय: हर आने वाले दिन हमारे लिए लिए नया होता है। खुद के अलावा हमारे परिवारिक जीवन  एक नईं उम्मीद के साथ जीता है। हिंदू धर्म में हर एक दिन का अलग-अलग महत्व है। हर वार को अलग-अलग देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। इसी तरह गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और बृहस्पति देव की पूजा की जाती है। इसके साथ ही ये दिन गुरु बृहस्पति ग्रह से भी संबंधित होता है इसलिए इस दिन कुछ काम करना शुभ माना जाता है और कुछ काम करने की मनाही होती है, जिससे कि कुंडली में बृहस्पति ग्रह कमजोर स्थिति में न आए। जानिए परिवारिक जीवन को खुशहाल रखने इस दिन को क्या न करें।

यह भी पढ़ें:Somvati Amavasya 2022: 30 साल बाद सोमवती अमावस्या पर बन रहा अद्भुत संयोग, इन 5 कामों से मिलेगी पितृदोष से मुक्ति

धर्म शास्त्र मान्यताओं के मुताबिक, गुरुवार के दिन महिलाओं को बाल धोने की मनाही होती है। इसके अलावा इस दिन कपड़े धोना, पोंछा लगाना, शेविंग करना , बाल काटना आदि की मनाही होती है। इसके पीछे ज्योतिष संबंधी कारण भी है।

महिलाओं क्यों न धोएं गुरुवार के दिन बाल

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, गुरुवार के दिन महिलाओं को अपने बाल नहीं धोना चाहिए। क्योंकि महिलाओं की जन्म कुंडली में बृहस्पति पति और संतान का कारक होता है। इस आधार पर बृहस्पति ग्रह संतान के साथ-साथ पति के जीवन को भी प्रभावित कर सकता है। इसलिए गुरुवार को बाल दोनों की मनाही है क्योंकि इससे बृहस्पति ग्रह कमजोर होता है, जिससे अशुभ प्रभाव पड़ना शुरू हो जाता है।

गुरुवार को इन कामों को भी करने की हैं मनाही

बाल काटना (shearing)

गुरुवार के दिन बाल काटने की भी मनाही होती है। क्योंकि इसके असर से बृहस्पति ग्रह कमजोर होता है।

घर में पोंछा लगाना (house cleaning)

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, गुरुवार के दिन घर में पोंछा नहीं लगाना चाहिए। क्योंकि इससे उस घर में रहने वाले लोगों की कुंडली में गुरु ग्रह कमजोर हो जाता है। इसके अलावा घर के ईशान कोण का स्वामी बृहस्पति ही है। ऐसे में यह कोण भी काफी कमजोर हो जाता है जो देवी-देवताओं से भी संबंधित है। इससे घर के बच्चों, पति के साथ-साथ आर्थिक स्थिति पर भी बुरा असर पड़ता है।

यह भी पढ़ें:यदि आपके पास है पुराना एक rupees का नोट, तो आपकों बना सकता लखपति, ऐसे बेंच सकते हैं

शेविंग करना (to shave)

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, जन्म कुंडली में दूसरा और ग्यारहवां भाव धन का स्थान होते हैं और यह दोनों की भाव के स्वामी बृहस्पति है। इसलिए गुरुवार के दिन शेविंग करने की मनाही है। क्योंकि इससे बृहस्पति कमजोर होता है। जो धन हानि का कारण बनता है।

Related Articles

Back to top button