डबल फायदा! किसानों को 2,000 रुपये के अलावा हर महीने मिलेंगे ₹3,000 भी, जानें कैसे उठाएं लाभ?

नई दिल्ली. अगर किसान  हैं तो आपके लिए बेहद काम की खबर है. पीएम किसान  खाताधारकों को सालभर में 6,000 रुपये के अलावा अब हर महीने 3 हजार रुपये भी मिलेंगे. इसके लिए उन्हें पीएम किसान मानधन  में सीधे रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसमें कोई कागजी कार्रवाई की जरूरत नहीं होती है. बता दें कि इस पेंशन योजना  के लिए जरूरी अंशदान भी सम्मान निधि के तहत आने वाली सरकारी सहायता से ही कट जाएगी.

यहां से ले सकेंगे जानकारी
अगर आप PM Kisan और पीएम किसान मानधन में रजिस्ट्रेशन कराते हैं तो ऐसे किसानों को हर 4 महीने में 2000 रुपये की किस्त के साथ 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 3,000 रुपये मंथली पेंशन मिलेगी. पीएम किसान सम्मान निधि की वेबसाइट www.pmkisan.gov.in पर इसके खास फीचर्स में इस बारे में जानकारी दी गई है.

जानें इन दोनों योजनाओं के बारे में
1. PM Kisan Scheme केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Government of India) की ओर से शुरू की गई है. बता दें कि यह किसानों से जुड़ी सबसे बड़ी योजना है और सरकार की कोशिश है कि हर असली किसान को इसका लाभ मिले. इस योजना के तहत सरकार गरीब किसानों को साल में 3 बार फाइनेंशियल हेल्प करती है. पीएम किसान सम्मान निधि में 3 किस्त में किसानों को 6 हजार रुपये की हेल्प मिलती है. पीएम किसान में खाता होने के कई लाभ हैं.

2. PM Kisan Mandhan Scheme केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना है. इस योजना के तहत 60 साल की उम्र के बाद पेंशन का प्रावधान है. इसमें 18 साल से 40 साल तक की उम्र का कोई भी किसान भाग ले सकता है, जिसे उम्र के हिसाब से मंथली आंशदान करने पर 60 की उम्र के बाद 3000 रुपये मंथली या 36000 रुपये सालाना पेंशन मिलेगी. इसके लिए अंशदान 55 रुपये से 200 रुपये तक मंथली है. अंशदान सब्सक्राइबर्स की उम्र पर निर्भर है.

जानें कैसे मिलेगा इसका लाभ?
पीएम किसान के तहत सरकार गरीब किसानों को हर साल 2000 रुपये की 3 किस्त में 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता देती है. वहीं इसके खाताधारक अगर पेंशन स्कीम पीएम किसान मानधन में भाग लेते हैं तो एक तो रजिसट्रेशन आसानी से हो जाएगा. दूसरा अगर आप विकल्प लें तो पेंशन स्कीम में हर महीने कटने वाला अंशदान भी इन्हीं 3 किस्त में मिलने वाली रकम से कट जाएगा. उन्‍हें हर महीने के हिसाब से 55 रुपये से लेकर 200 रुपये का ही प्रीमियम जमा करना होगा.

इस लिहाज से अधिकतम योगदान 2400 रुपये और मिनिमम योगदान 660 रुपये हुआ. 6 हजार रुपये में से अधिकतम योगदान 2400 रुपये कटे तो भी सम्मान निधि के 3600 रुपये खाते में बचेंगे. वहीं, 60 की उम्र होने के बाद आपको 3 हजार रुपये महीने पेंशन का लाभ मिलने लगेगा. वहीं, 2000 की 3 किस्त भी आती रहेगी. 60 की उम्र के बाद कुल फायदा 42000 रुपसे सालाना होगा.