किसान के फार्म हाउस के पास चल रहा था जुआं, 11 लोगों से 57 हजार रुपए पुलिस ने किए जब्त

खल्लारी/ खल्लारी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंड़कीपाली में खल्लारी पुलिस ने जुआ खेलते 11 आरोपियों को बीती रात धर दबोचा। वहीं आरोपियों से 56 हजार 980 रुपए नगद राशि जब्त भी किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार कमरौद के समीप ग्राम पंड़कीपाली में एक किसान के कृषि फार्म हाऊस के समीप करीब 11 लोग  जुआ खेल रहे थे।

http://गड्‌ढा with selify. बागबाहरा का वह 10 नजारा, इसे देखने से ही लगता कि छग में कितना विकास हुआ

जिसमें जाहिद पिता सलीम खान (58 वर्ष), उमेश पिता एल.सी. वाजवानी (39 वर्ष), रोशन पिता कुमार चन्द्राकर (35 वर्ष), ईशान पिता अजमेरी खान (29 वर्ष), कुल्लशेख पिता शेख अहमद खान (56 वर्ष), रामचंद्र पिता टाकनमल घोरानी (52 वर्ष), सुदमा पिता प्रेमचन्द्र सेठ (32 वर्ष), अब्दुल सलाम पिता अबफिज अजिज (50 वर्ष),

http://धनु राशि के जातक जोखिम व जमानत में न पड़े, पढ़िए आज का राशिफल

अयुबशेख पिता जयनुष खान (58 वर्ष), नित्यानंद पिता हरिचंद सतपती (62 वर्ष), ताज खान पिता टुनू खान (40 वर्ष) को जुआ खेलते इस बीच खल्लारी पुलिस मौके पर पहूंच घेराबंदी कर सभी 11 आरोपीयों को धर दबोचने में सफल हूए।

http://विधायक विमल ने हर सवालों का दिया जवाब, उधर चुन्नी साहू के कार्यालय में लटका रहा ताला

वहीं चार नग गुल गोटी, एक प्लास्टिक डिब्बा एवं जुमला के साथ इस दौरान आरोपीयों को मौके से गिरफ्तार कर थाना लाया गया। जहां जुआ एक्ट के तहत सभी 11 आरोपीयो पर कार्रवाई किये गए हैं।

http://शराबी की करतूत: महिला के बाल पकड़ घसीटते हुए खून निकलते तक की बेदम पिटाई

इस कार्रवाई में इनका रहा है योगदान

इस कार्रवाई में प्रधान आरक्षक कृपाराम साहू, राजेश मिश्रा, आरक्षक कमल साहू, हेमु निषाद, कमल किशोर साहू, मुरारी सिदार, बलराम ध्रुव, पुनदास भास्कर संहित आदि जवानों ने इस धर पकड़ की इस कार्रवाई में सराहनीय योगदान निभाया है।

http://5 करोड़ की ब्लैक-मेलिंग, इसलिए पत्रकार कल्पेश ने तीसरी मंजिल से कूदकर की थी आत्महत्या

Leave a Comment

Kiara Advani पहुंचीं सूर्यगढ़ पैलेस Glowing Skin के लिए ट्राई करें Shraddha arya का स्किन रूटीन Anupamaa: जन्मदिन पार्टी में अनुपमा और अनुज हुए रोमांटिक, माया नहीं बल्कि असली मां की हुई एंट्री आपके जूते बताते हैं आपका स्वभाव! शनि का उदय, इन राशियों की होगी बल्ले-बल्ले