कोरोना संकट के बीच जंग की आशंका से हिली दुनिया, वायरल हुआ वीडियो

मॉस्को जंग। कोविड (Coronavirus) संकट के बीच क्या दुनिया को जंग (War) का सामना भी करना पड़ेगा? यह सवाल खड़ा हुआ है रूसी सेना (Russian Army) के एक Video से, जिसमें उसे यूक्रेन (Ukraine) की सीमा की तरफ बढ़ते दिखाया गया है. रूसी सेना की बख्तरबंद गाड़ियां, टैंक और अन्य सैन्य साजो-सामान से लदे वाहन Ukraine की सीमा की ओर बढ़ रहे हैं. सेना का मूवमेंट इतना ज्यादा है कि दुनिया युद्ध की आशंका से सहम गई है. ट्रेनों को भी सेना के काम में लगाया गया है. इस मूवमेंट के वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) Video पर वायरल हो रहे हैं.

Russia के रुख से America चिंतित

रूस और यूक्रेन (Russia & Ukraine) के बीच विवाद काफी बढ़ गया है. हाल ही में अमेरिका (America) से सैन्य हथियारों से लदा एक कार्गो शिप यूक्रेन पहुंचा था. जिस पर रूस ने कड़ी आपत्ति जताई थी. रूस पहले से ही यूक्रेन और अमेरिका में बढ़ती हुई नजदीकी से चिढ़ा हुआ है. वहीं, अमेरिकी अधिकारियों ने चिंता जताई है कि मॉस्को की बढ़ती नाराजगी से दोनों देशों के बीच युद्ध का एक नया खतरा पैदा हो सकता है.

US जुटा रहा जानकारी

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि यूक्रेन की सीमा पर रूसी सैनिकों का जमावड़ा कब शुरू हुआ. लेकिन अधिकांश वायरल वीडियो को 27 मार्च के बाद का बताया जा रहा है. रूसी वायुसेना के कई लड़ाकू विमान भी उस क्षेत्र में अपनी गश्त को तेज किए हुए हैं. अमेरिकी सैन्य प्रतिष्ठान पेंटागन के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि हम इस भारी सैन्य मूवमेंट को लेकर रूस से जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ गर्वमेंट का नया निर्देश, सरकारी दफ्तरों में आ सकेंगे 50 फीसदी कर्मचारी

Ukraine के प्रति रूस की आक्रामक नीति

अमेरिकी सेना के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के चेयरमैन जनरल मार्क मिले ने अपने रूसी समकक्ष जनरल वालेरी गेरासिमोव ने 31 मार्च को सैन्य मूवमेंट को लेकर जानकारी मांगी थी, लेकिन, यह स्पष्ट नहीं है कि रूस ने अमेरिकी जनरल के इस सवाल का क्या जवाब दिया. अमेरिकी सेना के जनरल ने यूक्रेनी सेना के कमांडर-इन-चीफ रुसलान खोमच से भी बात की है. बता दें कि रुसलान खोमच ने 30 मार्च को यूक्रेन की संसद में कहा था कि रूसी संघ हमारे देश के प्रति आक्रामक नीति जारी रखे हुए है. रूस ने कम से कम अतिरिक्त 25 टेक्टिक ग्रुप को बॉर्डर एरिया में तैनात किया है. ये सभी यूक्रेन की सीमा पर पहले से तैनात रूसी सैनिकों के अलावा हैं.

Army की कई यूनिट तैनात

यूक्रेन के कमांडर-इन-चीफ ने यह भी कहा था कि वर्तमान में रूस ने क्रीमिया में करीब 32,700 सैन्यकर्मी तैनात किए हुए हैं. 2014 में क्रीमिया को जीतने के बाद से रूस ने इस इलाके में अपनी सैन्य उपस्थिति को मजबूत किया है. एक रिपोर्ट के अनुसार, रूस ने इस पूरे इलाके को एंटी-शिप क्रूज मिसाइल और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल बैटरियों से लैस किया हुआ है. रूस पूर्वी यूक्रेन के क्षेत्रों में 28,000 हथियारबंद युवकों को भी तैनात किए हुए है. इन लोगों को डॉनबास के रूप में जाना जाता है, ये 2015 से यूक्रेनी सरकार के खिलाफ सशस्त्र जंग छेड़े हुए हैं. हालांकि, क्रेमलिन ने इससे इनकार किया है, लेकिन इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि यूक्रेन की जमीन पर अब भी रूसी सेना की कई यूनिट मौजूद हैं.

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

Leave a Comment