डायन कहकर पहले युवक ने की चाची की Murder, फिर चाचा ने भतीजे की जान ली

गुमला. ज़िले के चैनपुर प्रखंड से दोहरे हत्याकांड का एक दहला देने वाला मामला सामने आया है. एक युवक को ऐसा शक था कि उसकी चाची जादू टोना कर रही थी. इस युवक ने अपनी चाची को डायन समझकर मौत के घाट उतार दिया. यह घटना हालांकि झारखंड के ग्रामीण इलाकों में नयी बात नहीं है, लेकिन इसके बाद जो कुछ हुआ, वह आम बात नहीं थी. भतीजे की इस करतूत का जब चाचा को पता चला तो उसने अपनी पत्नी के हत्यारे यानी अपने भतीजे को जान से मार डाला. पुलिस के हाथ दो लाशें लग चुकी हैं और एक हत्यारा गिरफ्त में है.

एक घर में दो हत्याओं की कहानी
कुरुमगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत सिविल गांव में डायन बिसाही के शक में हत्या का मामला इस तरह है कि 23 वर्षीय राजपाल मुंडा को अपनी ही रिश्तेदार 55 वर्षीय भिन्सारी देवी पर कई दिनों से डायन बिसाही होने का शक था. जानकारी के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से राजपाल के घर में लोग बीमार पड़ रहे थे. अपने शक के चलते राजपाल उस वक्त भिन्सारी के घर गया जब वहां कोई मौजूद नहीं था और भिन्सारी का पति मगदेव मुंडा खेत पर गया था. घर जाकर राजपाल ने कुल्हाड़ी से भिन्सारी को मौत के घाट उतार दिया.

इसके बाद कुछ ग्रामीणों ने खेत जाकर हत्या की सूचना मगदेव को दी. गुस्से में मगदेव घर पहुंचा तो पत्नी की लाश देखकर आग बबूला हो गया. उसने राजपाल को घर बुलाकर हत्या का कारण पूछा. जब राजपाल ने साफ कहा, ‘तुम्हारी पत्नी डायन है’, तो मगदेव ने आव देखा न ताव, घर में रखे टांगी से राजपाल के सिर पर हमला कर दिया. कुछ ही देर में इस दोहरे हत्याकांड की खबर पूरे इलाके में फैल गई और गांव भर में सन्नाटा पसर गया.

गांव के ही किसी व्यक्ति ने कुरूमगढ़ पुलिस को हत्याकांड की खबर दी, तो गुरुवार सुबह सिविल गांव पहुंचकर पुलिस ने दोनों शव व वारदात में इस्तेमाल की गई कुल्हाड़ी कब्ज़े में ली. साथ ही हत्या के आरोपी मगदेव मुंडा को गिरफ्तार कर लिया गया और दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.