कोमाखानक्राइममहासमुन्दमेरा गांव मेरा शहर

पति-पत्नी की समझदारी से नकली नोट छापने वाले पांच आरोपी गिरफ्तार

महासमुंद। नकली नोट छापकर ठगी करने वाले गिरोह को तुमगांव पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि नकली नोट के साथ धरे गए पांच आरोपियों को महासमुंद और मुंगली के पथरिया से गिरफ्तार किया गया है। गिरोह के पास से लाखों के नकली नोट एवं प्रिंटर पुलिस ने जब्त किया है। पुलिस के अनुसार प्रार्थी कुलवंत कौर ने 29 अगस्त को पुलिस में शिकायत की। उन्होंने पुलिस को बताया कि 19 अगस्त को दिनेश बंजारा एवं हनुमान धृतलहरे उनके घर आकर उनसे और उनके पति से कुछ दिन में ही पैसा दोगुना कर देने बात कहने लगे। जिस पर वह उनकी बातों पर विश्वास कर घर में रखें एक लाख रुपए उनको दे दिए।

http://10 हजार की रिश्वत लेते नगर पंचायत का सब इंजीनियर गिरफ्तार

प्रार्थी ने बताया कि 29 अगस्त को दोपहर करीब 12 बजे दिनेश बंजारा, हनुमान धृतलहरे अपने दो अन्य साथी जय कुमार एवं तिहारू कोसले के साथ एक सफेद रंग के मारूति कार CG28H 6710 में आए। दिनेश बंजारा ने कुलवंत कौर को 2000 और 500 रुपए के नोटो का बंडल देकर कहा कि तुम्हारे दिए एक लाख रुपए को हमने डबल करके 2 लाख दे रहे हैं। दिए गए नोटो को गिनने के समय ही उनको अहसास हुआ कि यह नकली नोट है। तभी, प्रार्थी ने समझदारी दिखते हुए तुमगांव थाना पहुंचकर इसकी जानकारी दी।

http://वित्त मंत्री का ऐलान, 10 सरकारी बैंक मर्ज होकर बनेंगे 4 बड़े बैंक

यहां उन चारों व्यक्तियों को अपने पति के थाना से वापस घर आते तक बहला-फुसलाकर घर में बिठाकर रखा था। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और उनके पति के साथ घर पहुंचे और नकली नोट छापकर धोखाधड़ी करने के मामले में 5 आरोपियों दिनेश बंजारा, हनुमान घृतलहरे, नरेंद्र मंगेशकर, जय कुमार और तिहारू कोसले को गिरफ्तार कर धारा 420, 489 कखग 34 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है। मामले में पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से छापा मारकर मौके से कलर प्रिंटर, कम्प्यूटर सेट और कार जब्त किया है।

[wds id=”1″]

हमसे जुड़िए…

https://twitter.com/home

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500, 8871342716, 7804033123

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button