महज 18 हजार रुपयों के लिए 2 नौकरों ने मिलकर कर दी मालिक की Murder

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिला पुलिस का दावा है कि साजा थाना क्षेत्र के अंतर्गत माटरा में योगेश वर्मा की महज 18 हजार रुपये के लिए उनके 2 नौकरों ने मिलकर हत्या कर दी है. Murder  के बाद शव बेरला थाना क्षेत्र के बारगांव हाई स्कूल के अधूरे सैप्टिक टैंक में फेक आरोपी फरार हो गए. साजा Police ने मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है. योगेश वर्मा अपने घर से बीते 16 जून को रात 9 बजे मोटरसायकल से निकले और रात भर नहीं आए. इसके बाद परिजनों ने आसपास में पता लगाया, लेकिन कोई पता नहीं चलने पर साजा थाना में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

योगेश के पिता ने Police को दिए बयान में बताया कि परिचितों ने अंतिम बार मेरे पुत्र को गांव के छत्रपाल वर्मा एवम कुलेश्वर के साथ जाते देखा है, जो उसके यहां नौकरी करते हैं. इसके बाद Police मामले की जांच में जुट गई और सम्बन्धितों से पूछताछ की तो उन्होंने गुनाह कबूल कर लिया और महज 18 हजार रुपये के कारण Murder करना बताया और मोटसाइकिल को नदी में फेकना बताया.

Police ने लगाया पता

लापता युवक की Murder  के मामले में Police ने हत्या और अपराधिक साजिस रचने के मामले में अपराध दर्ज कर छत्रपाल वर्मा कुलेश्वर पटेल को गिरफ्तार किया. वह मृतक योगेश के मोटरसाइकिल को जितेंद्र पटेल के कब्जे से बरामद करने पर उसके खिलाफ मामला कायम कर गिरफ्तार किया है. सभी आरोपियों को Police ने न्यायालय में पेश किया है. बेमेतरा एसपी दिव्यांग पटेल ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है.