गरियाबंद: भ्रष्टाचार के विरोध करने पर सरपंच ने पंच को चप्पल से पीटा…वीडियो वायरल करने के बाद दोबारा थाना पहुंचा पंच

गरियाबंद। देवभोग ब्लॉक के दरलीपारा पंचायत की सरपंच की दादागिरी सामने आया है। यहां पंच को भ्रष्ट्राचार का विरोध करना भारी पड़ गया। सरपंच ने पंच को गाली देते हुए चप्पल से पिटाई कर दी। मामला थाने पहुंचा तो सरपंच ने माफी मांग कर अपनी जिम्मेदारी निभा ली थी। इसके बाद पंच ने एक बार फिर थाने पहुंचकर इसकी शिकायत दी है। उनका कहना है कि पिटाई का वीडियो वायरल कर सरपंच उन्हें ग्रामीणों के बीच अपमानित कर रहा है। बतादें, पंच सालभर पहले विकास कार्यों में भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर विरोध कर रहा है।

जानकारी के अनुसार, स्कूल मैदान को समतल किया जा रहा है। सरपंच जलधर नागेश वहां मौजूद रहकर काम करा रहे थे। 23 जून की शाम करीब 4 बजे वार्ड क्रमांक एक से निर्वाचित पंच जयलाल ध्रुव वहां पहुंच गए। आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि मुरुम डालने के नाम पर मिट्‌टी डाली जा रही है। इसके बाद दोनों के बीच झगड़ा होने लगा। आरोप है कि सरपंच नागेश ने गालिंया देते हुए पंच जयलाल की चप्पल से पीटना शुरू कर दिया। लोगों ने देखा तो जयलाल को उससे छुड़ाया।

webmorcha.com
सरपंच ने पंच को चप्पल से पीटा

एक वर्ष से कर रहे विरोध, सभी पंचों ने दी थी इस्तीफे की चेतावनी

पंच ग्राम पंचायत में चल रहे कामों में भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर एक वर्ष से विरोध कर रहे हैं। इससे पहले 2020 में सड़क, क्वारैंटाइन सेंटर के नाम पर गड़बड़ी, बिना प्रस्ताव के सोलर लाइट सहित अन्य मामलों में जिला पंचायत से शिकायत की गई है। फरवरी 2021 में कार्रवाई नहीं होने पर 7 पंचों ने इस्तीफे की भी चेतावनी दी थी। मामले की जांच हुई, पर पंच संतुष्ट नहीं हैं। जनपद CEO ML मंडावी ने कहा कि दोबारा क्या मामला हुआ, उसकी जानकारी जनपद को नही दी गई है।

यहां पढ़ें: Odisha: राहत -3 हजार के नीचे आया दैनिक कोरोना संक्रमण, 40 की मौत, पड़ोसी जिले नुवापाड़ा में राहत की खबर यहां मिले 8 संक्रमित

सरपंच की सफाई, पंच ने मुझे पहले पीटा गया

सरपंच जलधर नागेश ने सफाई देते हुए कहा कि पंच ने उन्हें पीटा। फिर दोबारा जयलाल शराब पीकर आया और झगड़ने लगा। पहले उसने गालियां देनी शुरू की। मना करने पर हमले की कोशिश की। इसके बाद मैंने भी उसे पीटा। जिस स्कूल मौदान में मुरुम डालना है वह गहरा है, इसलिए पहले मिट्टी डलवाई जा रही है।