अच्छी खबर: छत्तीसगढ़ में 2 अगस्त से शुरू होंगी स्कूल… 10वीं और 12वीं की कक्षाएं, सीएम भूपेश बघेल ने लिया फैसला

रायपुर। सीएम भूपेश बघेल ने आज मंगलवार दोपहर मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई थी। बैठक के दौरान लेमरू प्रोजेक्ट, प्रथम अनुपूरक बजट, गोधन न्याय योजना सहित कई अहम प्रस्तावों पर चर्चा हुई। इसके बाद कई बड़े फैसले लिए गए। बैठक के बाद कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि लेमरू का एरिया घटाने का प्रस्ताव खारिज कर दिया गया है।

कोविड-19 के संक्रमण की स्थिति में प्रदेश के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए 2 अगस्त 2021 से भौतिक रूप से शिक्षण तथा अध्यापन कालखण्डो में विद्यार्थियों को उपस्थिति का निर्णय लिया गया। जिसके तहत कक्षाओं का संचालन प्रतिदिन 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ किया जाएगा। अर्थात विद्यार्थी अलटरनेट डे कक्षा में उपस्थित होंगे। समस्त संकायों/कक्षाओं के लिए पूर्व से संचालित ऑनलाइन कक्षाएं भी यथावत संचालित रहेंगी। कोविड-19 के सुरक्षा मानकों का ध्यान रखा जाएगा। राज्य के सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) प्रारंभ होंगे। मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, पॉलीटेक्निक चरणबद्ध रूप से खोले जाएंगे। कॉलेजों में विद्यार्थियों की उपस्थिति की अनिवार्यता नहीं है।

एक ही परिवार के सभी 6 लोगों ने खाया जहर, चोरी के झूठे मामले में फसाने के आरोप

कक्षा 10वीं और 12वीं के कक्षाएं 2 अगस्त 2021 से शुरू होंगी। कक्षाओं का संचालन विद्यार्थियों की 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ किया जाएगा। इसके लिए पालकों की सहमति आवश्यक होगी। यदि कोविड के एक भी प्रकरण नहीं है, ऐसी स्थिति में ग्राम पंचायते पालकों के परामर्श से स्कूलों के संचालन का निर्णय ले सकेंगी। इसी प्रकार शहरी क्षेत्रों में स्कूलों के संचालन के संबंध में स्थानीय पार्षद एवं पालकों की सहमति से निर्णय लिया जाएगा। 26-निजी विश्वविद्यालय की स्थापना एवं निगमन विषयक – प्रस्तावित विश्वविद्यालय, दुर्ग, छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय स्थापना एवं संचालन) (संशोधन) विधेयक, 2021 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।