भयावह: छत्तीसगढ़ की है ये तस्वीर… शमशान घाट में 17 शव जलाए एक ही दिन

रायपुर। छत्तीसगढ में कोरोना की स्थिति भयावह होते जा रही है। शुक्रवार की सुबह दुर्ग जिला हॉस्पीटल की मरच्यूरी से भयावह तस्वीर सामने आई। यहां कुल 22 शव कोरोना के संदिग्ध मरीजों को एक कमरे में रखा गया था। जिला हॉस्पीटल में इस समय हालत ऐसी है कि शव रखने का स्थान नहीं है। शव जलाने को लेकर विकराल स्थिति त्पन्न हो गई है।

छत्तीसगढ़ में सक्रिय मरीजों की संख्या 31 हजार के उपर पहुंच गई है। शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन भी प्रदेश में 4 हजार से अधिक संक्रमित मरीज सामने आए। रायपुर में 1405 सहित छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिले में 4174 नए संक्रमित सामने आए। वहीं राजधानी में 16 सहित 43 मरीजों की कोरोना से मौत हुई।

अलर्ट! 500 वर्ष बाद फिर आ रही है भयानक तबाही, सूरज से निकलेगी आग, धधक उठेगा आसमान…

सक्रिय मरीजों में सबसे अधिक दुर्ग है जहां पर 10489 मरीजों का उपचार हॉस्पीटल एवं घर में चल रहा है। सेकेंड नंबर पर रायपुर राजधानी है, जहां 8437 लोगों का घर और हॉस्पीटल में उपचार चल रहा है। कोरोना सेल के मीडिया प्रभारी डॉ. सुभाष पांडेय व सीनियर कैंसर सर्जन डॉ. युसूफ मेमन के ने बताया कि संक्रमण की दर बढ़ने से प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 8 फीसदी के आसपास है। वहीं मृत्यु दर भी 1.2 फीसदी है। आने वाले कुछ दिनों में संक्रमण घटने की संभावना नहीं है। ऐसे में जरूरी एहतियात बरतकर संक्रमितों की संख्या कम कर सकते हैं।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123

Leave a Comment