महासमुंद: भगवान के 5 kg चांदी का मुकुट गायब…मंदिर पुजारी पर चोरी का लगा आरोप…कोमाखान पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया

0
57
चांदी का मुकुट
चांदी का मुकुट

महासमुंद। महासमुंद: भगवान के 5 kg चांदी का मुकुट गायब…मंदिर पुजारी पर चोरी का लगा आरोप…कोमाखान पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया है। कोमाखान प्रार्थी थियेन्द्र प्रताप सिंह ने थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई है कि इनके पूर्वजों के द्वारा 1858 में राधाकृष्ण व भगवान जगन्नाथ का मंदिर का निर्माण किया गया तथा राधाकृष्णा एवं भगवान जगन्नाथ के मुकुट के लिये  05 किलो चांदी का 05 नग मुकुट बनवाया गया एवं  मंदिर की पूजा एवं देख रेख के लिये ट्रस्ट बनाकर मंहत का नियुक्ति किया गया था। दीपक महंत के द्वारा उक्त 05 नग चांदी के मुकुट को ट्रस्ट को वापस नही कर रहा है।

पहले भी गिरवी में रख चुका है पुजारी

तथा मुकुट के संबंध में पुछने से गोल मोल जवाब दे रहा है जो आरोपी दीपक मंहत के विरूद्ध अपराध धारा 406 भादवि का अपराध घटित करना पाये जाने से अपराध‍ सदर कायम कर विवेचना में लिया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पांचो मूर्तियों के लिये 05 किलो ग्राम चांदी का 05 नग मुकुट बनवाया गया । जिसकी देख रेख के लिये एक ट्रस्ट का निर्माण किया गया है। जिसकी पूजा पाठ व देख रेख के लिये महंत रखा गया।

मेरी जानकारी अनुसार महंत रामशरण दास थे इनके देहांत के बाद रामहंस दास को महंत बनाया गया। रामहंस दास बुजुर्ग होने पर उनके पुत्र दीपक दास को वर्ष 2008 में महंत बनाया गया है। तब से दीपक महंत मंदिर एवं ट्रस्ट का देख रेख कर रहे हैं। वर्ष 2012-2013 में दीपक मंहत द्वारा भगवान के चांदी के 05 नग मुकुट को खरियार रोड में गिरवी रखा था। जिसका पता चलने व दबाव बनाने पर 05 नग चांदी के मुकुट को गिरवी से छुड़ाकर मंदिर लाया गया।

इस बारिश मौसम में घर को कैसे रखें कीड़े मुक्त, जानिए पांच खास उपाय….आइए जानें 5 खास टिप्स

पुजारी का संतोषप्रद जवाब नहीं

वर्ष 2019 में भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा निकलने पर 05 नग मुकुट को सिंगार किया गया था। वर्ष 2020 में कोरोना महामारी होने के कारण रथ यात्रा नही निकाला गया था। जिस कारण किसी का ध्यान मुकुट की ओर नही गया। वर्ष 2021 माह जुलाई में रथ यात्रा होने वाला था जिस संबंध में दिनांक 10/07/2021 को मीटिंग रखा गया, जिसमें भगवान का सिंगार 05 नग मुकुट के बारे में दीपक महंत से पूछताछ किया गया जो संतोषप्रद जवाब नही दिया। कभी अपने पिता जी रामहंस का नाम लेते तो कभी गोल मोल जवाब देते।

ये 2 लक्षणों को बिल्कुल न करें नजरअंदाज कोरोना मरीज, पढ़ें यह स्टडी… वर्ल्ड में अब तक कोविड के 20 करोड़ संक्रमित हो चुके हैं

दीपक महंत अपने पद व कार्यकाल के दौरान 05 नग चांदी की मुकुट को गायब कर दिया है जो कि धार्मिक आस्था पर ठेस पहुंचा रहा है। चांदी के मुकुट के बारे में दीपक महंत से ग्रामवासी आशीष वाकड़े, खेमदास मानिकपुरी, प्रदीप यादव, राहुल श्रीवास, ज्ञानचंद जैन, अन्य लोगों के समक्ष पूछने पर कुछ बताने को तैयार नही है। इस विषय में ग्रामीणों द्वारा पंचायत सदस्यों को बुलाकर दो बार बैठक भी किया गया परन्तु दीपक महंत के द्वारा गोल मोल जवाब दिया जा रहा है। बताया गया प्राचीन 05 नग चांदी की मुकुट जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 3,50000/ रूपये की है।