मेरा गांव मेरा शहर

बेघर हो चुके गरीब परिवार का अब तक प्रशासन ने नहीं लिया संज्ञान, महिला समूह ने परिवार का जाना हालचाल

घर टूटने के बाद इस तरह रह रहे परिवार

गांव की महिला समूह ने कहा कीरित के परिवार के साथ हुआ है भेदभाव

तहसीलदार ने बिना मौका निरीक्षण ही तोड़ने का दे दिया आदेश

महासमुंद

भुरकोनी आश्रित ग्राम झाकरपाली के एक गरीब परिवार को पिथौरा तहसीलदार ने बेघर कर दिया है। दरअसल कई सालों से कच्चा मकान बनाकर परिवार रह रहा था, परिवार ने तय किया और पुराने मकान को तोड़कर पक्का मकान का निर्माण शुरू किया। लेकिन तहसीलदार के एक आदेश ने पूरा परिवार को बेघर कर दिया है, वर्तमान में पेड़ के नीचे रहकर जीवन-यापन कर रहे हैं।
परिवार ने जनदर्शन सहित मुख्यमंत्री तक न्याय की गुहार लगाई, लेकिन अब तक जांच शुरू नहीं हुई है।

गांव में सैकड़ों लोग सरकारी जमीन पर काबिज

  • ग्राम पंचायत भुरकोनी के महिला समिति दुर्गा वाहिनी आश्रित ग्राम झाकरपाली में पीड़ित कीरितराम साहू के घर जाकर महिला समिति मुलाकात की।
    परिवार की हाल-चाल से अवगत हुई पीड़ित कीरित राम ने तहसीलदार , एसडीएम कलेक्टर, लोक सुराज, मुख्यमंत्री जनदर्शन सभी जगह न्याय की गुहार लगाई लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिल पाया।
    पूरे परिवार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे हैं, कुल 10 सदस्य हैं, यहां तक उसके परिवार ईट भट्ठा पलायन करते हैं
  • महिला समिति से लोन लेकर मकान बनाए थे मकान में ढाई तीन लाख खर्च हो चुका था,
  • अत्यंत गरीबी परिवार होने के कारण उसके पास रहने के लिए जगह नहीं है
  • पेड़ की छांव में अपना जिंदगी गुजर बसर कर रहे हैं
  • किरितराम ने कहा है कि पूरे गांव घास जमीन पर निवासरत है लेकिन मुझ गरीब पर ही क्यों
  • अत्याचार कर मेरे घर को तोड़ा गया
  • उन्होंने ऐसा कहा कर न्याय की गुहार महिला समिति से मदद करने के लिए कहां है
  • उन्होंने कहा है कि उनके साथ कुछ भी होता है तो सभी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी
  • जो व्यक्ति इस गरीब की सहायता करना चाहते हैं कृपा करके सामने आए और उसे न्याय दिलाने में मदद करें

यहांपर पढ़िए परिवार की पूरी कहानी  http://जिस तहसीलदार को सीएम ने मानवता का पाठ पढ़ाया

  • महिला समिति दुर्गा वाहिनी भुरकोनी अध्यक्ष शारदा यादव कोषाध्यक्ष सरिता दीवान उपाध्यक्ष सरिता अग्रवाल जनपद सदस्य दिनेश्वरी चक्रधारी टीना ठाकुर मीनाक्षी लाल माया लाल ललिता निषाद विलासनी यादव भागवती ठाकुर सेवती साहू भुनेश्वरी भोई शिवकुमारी रुकमणी ठाकुर सरिता साहू फुलमत ठाकुर पानबाई चुन्नी भाई हेमकुमारी महेशवरी बाई ठाकुर इनके घर पहुंचे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button