निःशब्द हूं मैं..छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार प्राकृत शरण का निधन…कुछ दिन पहले कोरोना से हुए थे संक्रमित

रायपुर। राजपरिवार राजपूत क्षत्रिय समाज खैरागढ़ वरिष्ठ पत्रकार, राजनांदगांव दैनिक भास्कर के पूर्व ब्यूरो चीफ व  राजपरिवार खैरागढ़ के सदस्य प्राकृत शरण सिंह का रात 02 बजे भिलाई स्थित निजी हास्पिटल में निधन हो गया। ईश्वर उनको अपने चरणों मे स्थान दे एवं उनके परिजनों को इस भीषण दुख को सहन करने की अपार शक्ति प्रदान करें। *ॐशांति*

निःशब्द हूं मैं.. कुछ दिन पहले ही उनके  पिता चक्रधर शरण सिंह का निधन हुआ था। अभी इस शोक से परिवार उठे ही नहीं थे कि अब बीती रात प्राकृत शरण का निधन हो गया। छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार जितेंद्र शर्मा ने निधन पर पोस्ट करते हुए लिखा… निःशब्द हूं मैं..

प्राकृत शरण का अंतिम पोस्ट

13 अप्रैल को उन्होंने कोरोनो को लेकर एक पोस्ट किया जिसमें लिखा था..

कोरोना के विषय में मैंने कुछ डॉक्टरों से चर्चा की,तो उनका कहना था कि,अधिकतर लोग डर से एडमिट हो रहे हैं।
तो कृपया डरें नहीं।
और फेफड़े को ज्यादा से ज्यादा वर्कआउट करवाइए,,वो ऐसे कि, लंबी सांस लेनी है,फिर धीरे धीरे छोड़नी है,और यदि तेज़ी से छोड़ पाएं तो और अच्छी बात है, ये प्रक्रिया अपनी क्षमता के अनुसार कीजिए।
इस प्रक्रिया का नाम “भ्रस्त्रिका प्राणायाम” है,यदि समझ न आए तो नीचे दिए गए लिंक से आप देख सकते हैं कि यह कैसे करना है

हवा से  फैल रहा कोरोना वायरस, गर्वमेंट ने पहली बार स्‍वीकारा, हालांकि मौतों की संख्या घटी