रेप के आरोपी IAS बहाल: जांजगीर-चांपा Collector रहते हुए दफ्तर में महिला से दुष्कर्म के आरोप में हुए थे संस्पेंड, राजस्व विभाग में संयुक्त सचिव की दी गई जिम्मेदारी

रायपुर। प्रदेश सरकार ने आज सोमवार को प्रशासनिक अफसरों की जिम्मेदारी एक बार फिर तय की है। सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से जारी निर्देश के अनुसार, 2007 बैच के IAS जनक प्रसाद पाठक (Janak Prasad Pathak) को राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग में संयुक्त सचिव की जिम्मेदारी दी गई है। बतादें, पाठक जांजगीर-चांपा Collector रहते हुए दफ्तर में ही एक महिला से रेप का आरोप लगा हुआ था। इसके कारण उन्हें सालभर पहले निलंबित किया गया था।

जांजगीर-चांपा जिले की एक महिला ने जून 2020 में SP पारुल माथुर के पास लिखित में शिकायत दी थी। महिला ने आरोप लगाया था कि उसका पति सरकारी कर्मचारी है। Collector रहते हुए जनक प्रसाद पाठक (Janak Prasad Pathak) ने 15 मई को महिला का अपने दफ्तर में ही दुष्कर्म किया था। उसे धमकी दी गई थी कि उसने उनकी बात नहीं मानी तो उसके पति को नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा। महिला ने शिकायत के बाद कलेक्टर (Janak Prasad Pathak) की ओर से भेजे गए मैसेज का स्क्रीनशॉट भी लगाया था।

खुशखबरी: Gold-चांदी की कीमतों में जबरदस्त गिरावट, जानिए आज का भाव

वरिष्ठ अधिकारियों ने मार्गदर्शन लेने के बाद Police ने (Janak Prasad Pathak)  के खिलाफ दुष्कर्म और अनुसूचित जाति अत्याचार निवारण कानून की धाराओं में FIR दर्ज किया। जनक प्रसाद पाठक उस समय संचालक भू-अभिलेख के पद पर काम कर रहे थे। एफआईआर  के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने 5 जून को उन्हें निलंबित कर दिया। पाठक ने निलंबन को केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण (CAT) में चुनौती दी। इसके बाद उन्हें राहत मिली और बीते माह उनकी बहाली का आदेश जारी हुआ था।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123

Leave a Comment