आटो/गैजेट

अगर आपको हाई या लो ब्लड प्रेशर है तो उसे हल्के में न लें….करें यह उपाय

रक्त के धमनियों पर डाले गए दबाव को ब्लड-प्रेशर कहते हैं। हाई या लो ब्लड-प्रेशर किसी भी व्यक्ति को किसी भी उम्र में हो सकता है। यह बीमारी पुरुष व महिला किसी को भी हो सकती है। एक बार अगर आप इस रोग के शिकार हो गए तो सावधानी बरतना ही इसका सबसे बड़ा इलाज है। हाई या लो ब्लड प्रेशर अपने साथ अन्य कई बीमारियां लेकर आता है। जिससे शरीर के अन्य हिस्से भी प्रभावित होते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर का शरीर पर प्रभाव-

नेत्रों पर प्रभाव-

  • हाई ब्लड-प्रेशर से आंखों की समस्या हो सकती है।
  • रोगी को आंखों की रोशनी कम होने लगती है।
  • उसे धुंधला दिखाई देने लगता है। इसलिए ब्लड प्रेशर की समस्या में आंखों की नियमित जांच की सलाह दी जाती है।

किडनी पर प्रभाव-

  • गुर्दा हमारे शरीर से दूषित पदार्थों को बाहर निकालता है।
  • हाई ब्लड-प्रेशर के कारण किडनी की रक्त वाहिकाएं संकरी या मोटी हो सकती है।
  • इससे किडनी अपना काम ठीक से नहीं कर पाती। खून में दूषित पदार्थ जमा होने लगते हैं।

नीचे देखें ब्लडप्रेशर चार्ट-

हार्ट अटैक की आशंका-

  • हाई ब्लड प्रेशर में सबसे ज्यादा खतरा हृदय को होता है।
  • जब हृदय की रक्त वाहिकाओं के कारण पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलता तो सीने में दर्द हो सकता है।
  • अगर खून का बहाव रुक जाए तो हार्ट-अटैक भी हो सकता है।

इसे भी पढ़े –  क्या है सिकलसेल, इसे फैलने से कैसे रोके और इसका इलाज कैसे करें, आस्था संस्था ने स्कूली बच्चों को दी जानकारी

मस्तिष्क पर प्रभाव-

  • हाई ब्लड-प्रेशर में रोगी की याददाश्त पर असर हो सकता है।
  • इसमें समय के साथ-साथ मस्तिष्क में खून की आपूर्ति और कम हो जाती है। और व्यक्ति की सोचने-समझने की शक्ति घटती जाती है।

हाई ब्लड प्रेशर को काबू करने के लिए कुछ कदम

  • वज़न कम कीजिए
  • नमक की मात्रा कम कीजिए
  • पोटैशियमयुक्‍त भोजन ज़्यादा लीजिए
  • शराब पीना कम कीजिए
  • नियमित रूप से कसरत कीजिए
  • ऐसे भोजन लीजिए जिनमें कैल्शियम और मैग्नीशियम होताहै
  • रेशेदार भोजन ज़्यादा लीजिए
  • तनाव कम करने की थैरेपी करवाइए
  • धूम्रपान छोड़ दीजिए
  • कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को काबू में रखिए
  • मधुमेह को काबू में रखिए
  • ऐसी दवाइयाँ मत लीजिए जिनसे ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है।

इसे भी पढ़े –  बरसात में स्वस्थ्य रहने के लिए इन पांच घरेलू उपायों को जरूर अपनाए

लो ब्लड प्रेशर का शरीर पर प्रभाव-

जब किसी के शरीर में रक्त-प्रवाह सामान्य से कम हो जाता है तो उसे निम्न रक्तचाप या लो ब्लड प्रेशर कहते है। नार्मल ब्लड प्रेशर 120/80 होता है। थोड़ा बहुत ऊपर-नीचे होने से कोई फर्क नही पड़ता। लेकिन, यदि ब्‍लड प्रेशर 90 से कम हो जाए तो उसे लो ब्लड प्रेशर कहते हैं।

ब्लड प्रेशर चार्ट-

स्रोतः इंटरनेट

इसे भी पढ़े –  मन तो चटपटा खाने का, लेकिन कर देगा आपको बीमार

लो ब्लड प्रेशर को काबू करने के लिए कुछ कदम-

  • डॉक्टर हमेशा खाने में नमक की मात्रा कम करने की सलाह देते हैं। लो बीपी से पीड़ित लोगों को सोडियम की मात्रा थोड़ी ज़्यादा ही रखने की सलाह दी जाती है।
  • भरपूर पानी पीएं, हालांकि यह सलाह तो सभी के लिए है। गर आपको लो बीपी है, तो यह बहुत ज़्यादा फ़ायदेमंद हो सकता है।
  • जब बीपी अचानक लो हो जाए, तो पेशेंट को तुरंत फर्स्ट एड दें। पेशेंट को तुरंत पीठ के बल लिटाकर पैरों के नीचे 2 तकिए रखें।
  • अल्कोहल से दूर रहें।
  • बहुत ज़्यादा देर तक खड़े न रहें।
  • बहुत ज़्यादा देर तक बैठे या लेटे रहने के बाद अचानक खड़े न हो जाएं। धीरे-धीरे उठें, इससे बीपी अचानक से बढ़ता-घटता नहीं।
  • चलते व़क्त ध्यान रखें, ताकि चक्कर खाकर गिरने से बच सकें।
  • एक्सरसाइज़, योगा, स्विमिंग, वॉकिंग और साइकलिंग से रोज़ाना ब्लड प्रेशर को रेग्युलेट कर सकते हैं।
  • अपने खाने में कार्बोहाइड्रेट युक्त पदार्थों जैसे- आलू, चावल, ब्रेड, पास्ता आदि की मात्रा कम कर दें।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button