IMD की चेतावनी: Tauktae के ‘अत्यंत भयंकर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना, आज शनिवार रात तक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की प्रबलता

Tauktae Cyclone : भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी देते हुए बताया है कि अरब सागर में बने दबाव के क्षेत्र के 17 मई को ‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’ में तब्दील होने की संभावना है. भीषण चक्रवाती तूफान शनिवार को गुजरात तट को पार कर सकता है. इससे पहले मौसम की स्थिति भी ऐसी ही दिख रही है. जो गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गई है और इसके शनिवार सुबह तक  (Tauktae Cyclone news)  तूफान में तब्दील होने की संभावना है.

भारतीय वायुसेना के दो C-130 एयरक्राफ्ट से एनडीआरएफ की तीन टीम गुजरात के जामनगर पहुंची हैं। कुल 126 एनडीआरएफ कर्मियों को ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर से एयरलिफ्ट करके लाया गया। यह टीम राहत और बचाव कार्यों के लिए तैनात की जा रही है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने ट्वीट कर जानकारी दी, “लक्षद्वीप और अरब सागर के आसपास के इलाकों में गहरा मौसमी डिप्रेशन चक्रवाती तूफान Tauktae में बदल गया है।

भारी बारिश जारी है

Tauktae के चलते केरल के कोझीकोड में शनिवार को भारी बारिश जारी है। आईएमडी ने आज कोझिकोड में रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड जिलों में आज के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। वहीं तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम और अलापुझा जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। केरल के पठानमथिट्टा जिले के कल्लूपारा में मणिमाला नदी गंभीर स्थिति में बह रही है।

मौसम विज्ञान विभाग(IMD) ने यह जानकारी दी है कि तूफान के शनिवार रात तक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है. तूफान की आशंका वाले प्रदेशों और लक्षद्वीप के लिए भारतीय मौसम विभाग ने आने वाले दिनों के दृष्टिगत दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं. आईएमडी ने पहले ही मुंबई और ठाणे को येलो अलर्ट जारी कर दिया है, जबकि गुजरात और केरल के कई जिलों के लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किए गए हैं. Also Read – Weather Forecast : ठंडी हवाओं से जरा बचके…इस साल ठंड तोड़ सकती है अपने पुराने रिकॉर्ड

चक्रवाती तूफान Tauktae का खतरा, इन प्रदेशों में तैनात की गई NDRF की 24 टीमें, केरल में भारी बारिश शुरू

150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

IMD के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि 16-19 मई के बीच पूरी संभावना है कि तुकाते के तूफान में तब्दील होने के दौरान 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. तूफान के तेज होने के बाद हवाओं की रफ्तार बीच-बीच में 175 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है. मौसम विभाग ने पश्चिमी तटीय राज्यों को सतर्क किया है.

पांच राज्यों को है तूफान से खतरा

गुजरात, केरल समेत देश के पांच राज्यों पर चक्रवाती तूफान तुकाते  का खतरा पैदा हो गया है. इससे भारी नुकसान का अंदेशा भी है. इसे लेकर राहत और बचाव के उपाय अभी से शुरू हो गए है. तूफान के  प्रभाव की आशंका वाले पांच राज्यों में एनडीआरएफ (NDRF) की 53 टीमें तैनात कर दी गई हैं. प्रत्येक टीम में पेड़ व बिजली के खंभे काटने, बोट और बचाव-चिकित्सा के उपकरणों से लैस 40 जवान शामिल हैं.

कई जगहों पर 15-16 मई को भारी बारिश की संभावना

मौसम विभाग ने कहा है कि कर्नाटक के तटीय एवं आसपास के जिलों में 15 मई को  हल्की से मध्यम तथा कुछ स्थानों पर भारी से अत्यंत भारी तथा 16 मई को कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है. इसके साथ ही कोंकण और गोवा में 15-16 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है.

आईएमडी ने कहा कि गुजरात में सौराष्ट्र क्षेत्र के तटीय जिलों में 16 मई से बारिश होने की संभावना है तथा 17 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश हो सकती है तो वहीं, 18 मई को सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ जगहों पर भारी से अत्यंत भारी तथा किसी-किसी स्थान पर अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है.