राशन कार्ड पंजीयन के नाम पर हितग्राहियों से कर रहे थे उगाही, ग्रामीणों ने जब सवाल-जवाब किए तो भाग निकले ठग

बुंदेली में 5 लोगों से वसूल लिए थे 25 सौ रुपए

भारत सरकार का आदेश दिखा लोगों को ठगने का किया जा रहा था काम

महासमुंद. ग्रामीण क्षेत्रों में राशन कार्ड और आवास बनाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह सक्रिय हो गए हैं।

ताजा मामला शुक्रवार को बुंदेली गांव में देखने को मिला।

यहां भारत सरकार ग्रामीण मंत्रालय के नाम से कुछ लोग पहुंचे थे, जो ग्रामीणों से राशन कार्ड पंजीयन तथा आवास उपलब्ध कराने के लिए 500-500 रुपए की डिमांड कर रहे थे। पांच लोगों से 25 सौ रुपए वसूल भी लिए थे।

इन हितग्राहियों से वसूली

  • बूंदेली के उत्तम सिन्हा, संतराम सिन्हा, गोपाल श्रीवास सहित अन्य लोगों से 500 -500 रुपए वसली कर लिए थे। लेकिन, ग्रामीणों के दबाव और पूछताछ के बाद ग्रामीणों से लिए राशि वापस किया।
  • बकायदा इन ठगों के पास भारत सरकार ग्रामीण मंत्रालय का आदेश दिखा लोगों से वसूली कर रहे थे।
  • ग्रामीणों को शंका होने के बाद जागरुक ग्रामीणों को इसकी खबर दी।
  • ग्रामीणों की भीड़ को देखते ही वसूली कर रहे ठग बोरिया-बिस्तर बांधकर भाग खड़े हुए।
  • मामले को लेकर जिले में तरह-तरह की चर्चा व्हाट्सएप के जरिए होने भी लगी।
  • मामले को लेकर जनपद सीईओ राजेंद्र वर्मा ने कहा कि अभी मैं हाईकोर्ट में हूं, वापस आकर ही कुछ बता पाऊंगा।

Leave a Comment