छत्तीसगढ़ में मचा कोहराम 24 घंटे में 28 की कोरोना से मौत..क्या? फिर लॉकडाउन का झेलना पड़ेगा दंश! प्रशासन की चिंता बढ़ा दी

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कोविड (Corona) ने कोहराम मचा दिया है। इस वर्ष के सभी रिकॉर्ड बीते 24 घंटे में टूट गए हैं. बीते 24 घंटे में राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण कोविड-19 के 4563 नए केस सामने आए हैं. इसके साथ ही कोरोना से मौत के आकड़ो में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. राज्य में 24 घण्टे में 28 लोगों की मौत का कारण कोरोना वायरस बना है. सबसे ज्यादा कोहराम मचा राजधानी रायपुर व पड़ोसी जिले दुर्ग की है. रायपुर में बीते बुधवार को कोविड-19 के 1291 में नए केस सामने आए. जबकि दुर्ग जिले में ये आंकड़ा 1199 मरीजों का था. कोरोना के इन आंकड़ों में प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है.

छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटे में 839 मरीजों ने कोरोना को मात दे दी है. प्रदेश में कोविड के एक्टिव मरीजों की संख्या 25529 हो गई है. प्रदेश में कोविड से अब तक 4170 लोगों की जान जा चुकी है. जबकि 319488 मरीज रिकवर हो चुके हैं. राज्य में कोविड के बेकाबू होते मामलों को देखकर शासन प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है. सभी जिलों में नाईट कर्फ्यू लगा दिया गया है. इसके तहत रात 8 से सुबह 6 बजे तक अनावश्यक रूप से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई की जा रही है. साथ ही बगैर मास्क के बाहर निकलने वालों पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है.

अप्रैल माह में मेष, कर्क, कन्या और धनु जातकों को दे रहा शानदार समय… कुंभ और मीन राशि वालों को रहना होगा सावधान

शासन-प्रशासन में मचा हडकंप

छत्तीसगढ़ में कोविड से हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ते जा रहे हैं। बुधवार को जिस तरह से 4500 से ज्यादा मरीज छत्तीसगढ़ में मिले हैं, उसके बाद प्रदेश भर में हड़कंप मच गया है। प्रदेश में अब कोविड के इन हालातों के बीच लॉकडाउन की अटकलें लग रही है। हालांकि सरकार की तरफ से बहरहाल, इस बाबत कोई संकेत नहीं मिले हैं।

इधर, कोविड के बिगड़े हालात के बीच चीफ सिकरेट्री अमिताभ जैन कोविड की समीक्षा कर रहे हैं। CM ने कोविड के हालात को लेकर एक कमेटी गठित की थी, जो कोविड के हालात के मद्देनजर निर्णय लेंगे। शाम चार बजे से चीफ सिकरेट्री सभी एसपी और कलेक्टरों की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक ले रहे हैं। माना जा रहा है कि जिस तरह से कल प्रदेश के 10 जिलों में कोविड के खतरनाक आंकड़े आये थे, उसके मद्देनजर कुछ कड़े निर्देश चीफ सिकरेट्री जिलों के कलेक्टरों को देंगे।

Leave a Comment